1. You Are At:
  2. होम
  3. विदेश
  4. अमेरिका
  5. 2019 के लिए प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनने को तैयार: राहुल गांधी

2019 के लिए प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनने को तैयार: राहुल गांधी

विदेशी धरती से कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि वह 2019 के आम चुनावों में पार्टी का प्रधानमंत्री पद का उम्मीदरवार बनने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा कि इस फैसले को पार्टी द्वारा अंतिम तौर पर मंजूरी दी जानी है।

Edited by: India TV News Desk [Updated:12 Sep 2017, 11:18 PM IST]
rahul gandhi- Khabar IndiaTV
rahul gandhi

बर्कले: विदेशी धरती से कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि वह 2019 के आम चुनावों में पार्टी का प्रधानमंत्री पद का उम्मीदरवार बनने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा कि इस फैसले को पार्टी द्वारा अंतिम तौर पर मंजूरी दी जानी है। अक्सर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व भाजपा अध्यक्ष अमित शाह द्वारा वंशवाद को लेकर हमला किए जाने पर राहुल गांधी ने कहा, "भारत में सभी राजनीतिक दलों में यह समस्या है, बल्कि देश में ऐसा ही इस चल रहा है।"

एक विश्वविद्यालय में सोमवार की रात बातचीत में यह पूछे जाने पर कि क्या वह अगले लोकसभा चुनावों में कांग्रेस के प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनने के लिए तैयार हैं, इस सवाल के जवाब में राहुल गांधी ने कहा, "मैं इसके लिए पूरी तरह से तैयार हूं। "

यह पहली बार है जब राहुल गांधी ने सार्वजनिक तौर पर पुष्टि की है कि वह शीर्ष पद के लिए पसंद बनने के लिए तैयार हैं। राहुल गांधी राजनेताओं, वैश्विक विचारकों व प्रवासी भारतीयों से बातचीत करने के लिए दो सप्ताह के अमेरिका के दौरे पर हैं। वे विश्वविद्यालय में छात्रों से बात कर रहे थे, जहां उनके दादा व भारत के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने 1949 में भाषण दिया था।

कांग्रेस के प्रधानमंत्री पद के पसंद के सवाल के जवाब में राहुल गांधी ने कहा कि उनकी तरफ से इसे सार्वजनिक करना उचित नहीं है, क्योंकि पार्टी को इसे मंजूरी देना है। उन्होंने कहा, "जिस तरह से हमारी पार्टी कार्य करती है। हमारी एक आंतरिक प्रणाली है जिसमें हम कुछ निश्चित प्रतिनिधियों को चुनते हैं, जो फैसले लेते हैं। हमारे पास एक संगठनात्मक चुनावी प्रक्रिया है और यह प्रक्रिया वर्तमान में जारी है।"

उन्होंने कहा, "मेरे लिए यह कहना कि यह मेरा फैसला है, उचित नहीं होगा। यह फैसला कांग्रेस पार्टी को लेना है।" यह पूछे जाने पर कि क्या प्रधानमंत्री बनने का आपको मौका मिला तो आप बनेंगे इस पर राहुल गांधी ने पुष्टि में सिर हिलाते हुए कहा, "हां, जरूर।"

राहुल ने 'इंडिया एट 70 : रिफ्लेक्शन्स ऑन द पाथ फॉरवर्ड' विषय पर छात्रों से कई मुद्दों पर बात की। इसमें कांग्रेस के 2014 में आम चुनावों में पार्टी की हार पर भी बात की गई, जिसमें पार्टी को अब तक लोकसभा में सबसे कम सीटें मिली हैं।

उन्होंने स्वीकार किया कि 2012 के करीब कांग्रेस में घमंड आ गया और उसने लोगों से संवाद करना बंद कर दिया, जिससे पार्टी को बीते चुनावों में नुकसान उठाना पड़ा।

Promoted Content
auto-expo