1. You Are At:
  2. होम
  3. विदेश
  4. अमेरिका
  5. अमेरिका के पास बना नया देश, बनाने वाले ने जारी किया पासपोर्ट

अमेरिका के पास बना नया देश, बनाने वाले ने जारी किया पासपोर्ट

(फोटो साभार: रिपब्लिक ऑफ जाकिस्तान) न्यूयार्क: न्यूयॉर्क के रहने वाले एक नागरिक ने ऊटा के पास एक नए देश रिपब्लिक ऑफ जाकिस्तान का गठन कर पासपोर्ट भी जारी कर दिया है। इस नए देश का

India TV News Desk [Updated:29 Nov 2015, 12:43 PM IST]
अमेरिका के पास बना नया...- Khabar IndiaTV
अमेरिका के पास बना नया देश, बनाने वाले ने जारी किया पासपोर्ट

(फोटो साभार: रिपब्लिक ऑफ जाकिस्तान)

न्यूयार्क: न्यूयॉर्क के रहने वाले एक नागरिक ने ऊटा के पास एक नए देश रिपब्लिक ऑफ जाकिस्तान का गठन कर पासपोर्ट भी जारी कर दिया है। इस नए देश का गठन करने वाले शख्स जैक लैंड्सबर्ग ने खुद को यहां का राष्ट्रपति घोषित कर दिया है। आपको बता दें कि जैक ने इस देश के लिए जमीन करीब 15 साल पहले खरीदी थी। दिलचस्प बात यह है कि उसने अपने देश की सुरक्षा के लिए रोबोट भी तैनात कर रखे हैं।

जैक ने कब खरीदी जमीन-

जानकारी के मुताबिक जैक ने साल 2004 में ई-बे के माध्यम से यह 4 एकड़ जमीन 610 डॉलर में खरीदी थी। यह देश जिस जगह पर बना है वो निकटतम शहरी क्षेत्र से करीब 60 मील की दूरी पर है। जाकिस्तान ने अब उसका खुद का झंडा जारी करने के साथ बॉर्डर पेट्रोल गेट भी लगा दिया है। इस देश में प्रवेश के लिए आपके पासपोर्ट में हर बार मुहर होना जरूरी होता है।

 

खुद को इस देश का राष्ट्रपति घोषित कर चुके लैंड्सबर्ग बताते हैं कि यह कोई क्रेजी आइडिया नहीं हो सकता कि आपके पास खुद की एक जगह हो जिसमें आप क्रिएटिविटी दिखा सकते हैं। इस देश के गठन के बाद लैंड्सबर्ग करीब 25 लोगों को इस देश की नागरिकता की शपथ दिला चुके हैं। इस देश की नागरिकता हासिल करने के लिए कोई भी 40 डॉलर खर्च कर यहां के पासपोर्ट के लिए आवेदन कर सकता है। अर्जेंटीना के ब्यूनर्स आयर्स में इस देश की खुद की एंबेसी भी है और 19 नवंबर को हर साल इस देश का स्वतंत्रता दिवस भी मनाया जाएगा।

Khabar IndiaTv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी रीड करते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। US News in Hindi के लिए क्लिक करें khabarindiaTv का विदेश सेक्‍शन
Web Title: अमेरिका के पास बना नया देश, बनाने वाले ने जारी किया पासपोर्ट
Promoted Content
Write a comment
atal-bihari-vajpayee
monsoon-climate-change