1. You Are At:
  2. होम
  3. विदेश
  4. यूरोप
  5. खराब पढाई के लिए ऑक्सफोर्ड पर केस करने वाला छात्र हार गया कानूनी लड़ाई

खराब पढाई के लिए ऑक्सफोर्ड पर केस करने वाला छात्र हार गया कानूनी लड़ाई

ब्रिटेन की ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के एक पूर्व छात्र को एक कानूनी मामले में जोर का झटका लगा है...

Reported by: Bhasha [Published on:08 Feb 2018, 9:19 PM IST]
Brazenose College in Oxford | Google Photo- Khabar IndiaTV
Brazenose College in Oxford | Google Photo

लंदन: ब्रिटेन की ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के एक पूर्व छात्र को एक कानूनी मामले में जोर का झटका लगा है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, छात्र ने यूनिवर्सिटी पर भारतीय विषय में कथित खराब पढ़ाई के लिए 10 लाख पाउंड (लगभग 9 करोड़ रुपये) के हर्जाने का दावा किया था, जो वह हार गया। माना जाता है कि छात्र भारतीय मूल का है। फैज सिद्दकी नाम के इस छात्र ने 17 साल बाद पिछले साल नवंबर में विश्वविद्यालय पर मुकदमा करते हुए दावा किया था कि भारतीय साम्राज्य संबंधी इतिहास पर विशेष पाठ्यक्रम में अच्छे से पढाई नहीं हुई थी। 

रिपोर्ट्स के मुताबिक, छात्र ने दावा किया की इसकी वजह से 2000 में उसे केवल 2:1 अंक मिला और वकालत में अच्छे भविष्य की उसकी संभावनाएं धूमिल हो गईं। इस सप्ताह, एक जज ने मामले को यह कहते हुए खारिज कर दिया कि हो सकता है कि 39 वर्षीय फैज अपने पाठ्यक्रम के दौरान गहराई से अध्ययन नहीं कर पाए और उन्होंने इसके लिए हमदर्दी प्रकट की। जस्टिस फोसकेट ने अपने आदेश में कहा कि उम्मीद है कि वह फिर से विषय पर ध्यान केंद्रित करेंगे और अपनी प्रतिभा का इस्तेमाल खुद का बेहतर भविष्य बनाने के लिए करेंगे।

ब्रासेनोस कॉलेज में आधुनिक इतिहास का अध्ययन करने वाले सिद्दकी के वकील ने दलील दी थी कि द्वितीय श्रेणी की डिग्री से वकील के तौर पर उनके भविष्य के करियर को नुकसान पहुंचा। साथ ही कहा कि प्रथम श्रेणी डिग्री नहीं मिल पाने से हार्वर्ड लॉ स्कूल में दाखिला नहीं मिल पाया और उनका मानसिक स्वास्थ्य और करियर प्रभावित हुआ। जज ने माना कि याचिकाकर्ता को अवसाद से गुजरना पड़ा लेकिन उन्हें लगता है कि उनके डिग्री परिणाम के कारण ऐसा नहीं हुआ होगा।

Promoted Content
auto-expo