1. You Are At:
  2. होम
  3. विदेश
  4. यूरोप
  5. नर्व एजेंट के शिकार पूर्व रूसी जासूस स्क्रीपल को अस्पताल से मिली छुट्टी

नर्व एजेंट के शिकार पूर्व रूसी जासूस स्क्रीपल को अस्पताल से मिली छुट्टी

अपने घर के पास हुए एक रासायनिक हमले के शिकार पूर्व रूसी जासूस सर्जेई स्क्रीपल को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है...

Edited by: Khabarindiatv.com [Published on:18 May 2018, 6:53 PM IST]
Former Russian spy Sergei Skripal discharged from hospital | AP File- Khabar IndiaTV
Former Russian spy Sergei Skripal discharged from hospital | AP File

लंदन: अपने घर के पास हुए एक रासायनिक हमले के शिकार पूर्व रूसी जासूस सर्जेई स्क्रीपल को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। उन्हें एक ‘नर्व एजेंट’ के जरिए करीब 2 महीने पहले जहर दिया गया था। डॉक्टरों ने यह जानकारी दी। स्क्रीपल और उनकी बेटी यूलिया को 4 मार्च को ब्रिटिश शहर सेलिसबरी में अचेत पाया गया था। उनकी हालत कई हफ्तों तक नाजुक बनी रही। यूलिया के स्वास्थ्य में उनके पिता की तुलना में कहीं अधिक तेजी से सुधार हुआ और उन्हें पिछले महीने अस्पताल से छुट्टी दे गई थी।

सेलिसबरी जिला अस्पताल ने शुक्रवार को बताया कि दोनों रोगियों को छुट्टी दे दी गई है। उन्हें उनकी सुरक्षा के लिए अज्ञात स्थान पर ले जा गया है। गौरतलब है कि ब्रिटेन का दावा है कि स्क्रीपल और यूलिया को जहर देने के पीछे रूस का हाथ है हालांकि मास्को ने इससे इनकार किया है। आपको बता दें कि जहर से स्क्रीपल के पालतू जानवरों की भी मौत हो गई थी। स्क्रीपल एवं उनकी बेटी की भी जहर के संपर्क में आने के बाद स्थिति काफी खराब थी और वे मौत के मुंह में लगभग पहुंच ही गए थे।

इस मामले के चलते रूस एवं पश्चिमी देशों में संबंध काफी तनावपूर्ण हो गए थे। यूरोप के कई देशों ने अपने यहां से बड़ी संख्या में रूसी राजनयिकों को बाहर कर दिया था। अमेरिका ने भी इस घटना के विरोध में अपने यहां से बड़ी संख्या में रूसी राजनयिकों की छुट्टी की थी। वहीं, रूस ने भी इसके जवाब में कई राजनयिकों को निष्कासित कर दिया था।

Khabar IndiaTv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी रीड करते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Europe News in Hindi के लिए क्लिक करें khabarindiaTv का विदेश सेक्‍शन
Web Title: Former Russian spy Sergei Skripal discharged from hospital
Promoted Content
Write a comment
atal-bihari-vajpayee
monsoon-climate-change