1. You Are At:
  2. होम
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. तुर्की ने अमेरिका से प्रतिबंधों का लिया बदला, राष्ट्रपति एर्दोआन ने किया यह बड़ा ऐलान

तुर्की ने अमेरिका से प्रतिबंधों का लिया बदला, राष्ट्रपति एर्दोआन ने किया यह बड़ा ऐलान

अपने मंत्रियों पर लगाए गए अमेरिकी प्रतिबंधों पर तुर्की ने करारा जवाब दिया है।

Edited by: Khabarindiatv.com [Published on:04 Aug 2018, 8:36 PM IST]
Recep Tayyip Erdogan and Donald Trump | AP Photo- Khabar IndiaTV
Recep Tayyip Erdogan and Donald Trump | AP Photo

अंकारा: अपने मंत्रियों पर लगाए गए अमेरिकी प्रतिबंधों पर तुर्की ने करारा जवाब दिया है। तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैयब एर्दोआन ने शनिवार को कहा कि अमेरिका के न्याय और आंतरिक मामलों के मंत्रियों की तुर्की स्थित संपत्तियां जब्त की जाएंगी। उन्होंने एक अमेरिकी पादरी को तुर्की में हिरासत में लिए जाने के बाद अमेरिका द्वारा तुर्की के गृह मंत्री और न्याय मंत्री पर लगाए गए प्रतिबंधों के जवाब में यह कदम उठाने की बात कही। प्रतिबंधों के तहत अमेरिका में दोनों की संपत्तियां जब्त कर ली जाएंगी और अमेरिकी नागरिकों के उनके साथ किसी तरह के लेन-देन पर रोक होगी।

अमेरिका ने मंत्रियों पर लगाया था प्रतिबंध

एर्दोआन ने कहा, ‘अगर अमेरिका के न्याय और आंतरिक मामलों के मंत्रियों की तुर्की में कोई संपत्ति है तो आज मैं अपने दोस्तों उन्हें जब्त करने के निर्देश दूंगा।’ हालांकि राष्ट्रपति ने यह साफ नहीं किया कि वह अमेरिकी प्रशासन के किन सदस्यों की ओर इशारा कर रहे हैं। आपको बता दें कि बुधवार को अमेरिका ने तुर्की में बंद अपने पादरी एंड्र्यू बनसन को जेल से रिहा न करने पर तुर्की के 2 मंत्रियों पर प्रतिबंध लगा दिया था। तुर्की ने इसे बिना किसी फायदे वाली आक्रामक कार्रवाई करार देते हुए कहा था कि इसका निश्चित ही जवाब दिया जाएगा। 

पादरी को रिहा न करने पर ट्रंप थे नाखुश
व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव सारा सैंडर्स ने बुधवार को कहा था, ‘हमें ऐसा कोई सबूत नजर नहीं आया जिससे साबित हो कि पादरी ब्रनसन ने कुछ भी गलत किया है।’ सारा ने कहा कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैय्यप एर्दोगन ने जेल में बंद ब्रनसन के मामले पर 'कई मौकों पर' चर्चा की है। साराह ने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति पादरी को रिहा नहीं करने के तुर्की के फैसले से खुश नहीं हैं।

इस मामले में गिरफ्तार हुए थे ब्रनसन
वित्त विभाग ने बुधवार को एक बयान में कहा, ‘तुर्की सरकार के संगठनों के ये अधिकारी नेता के रूप में कार्य करते हैं जो तुर्की के गंभीर मानवाधिकारों के दुरुपयोग के लिए जिम्मेदार हैं और उन्हें कार्यकारी आदेश 13818 के अनुसार लक्षित किया जा रहा है जिसके तहत गंभीर मानवाधिकारों के दुरुपयोग या भ्रष्टाचार में शामिल व्यक्तियों की संपत्ति को प्रतिबंधित किया जाता है।’ तुर्की में 2016 के असफल तख्तापलट के प्रयास के मामले में ब्रनसन को गिरफ्तार किया गया था। मार्च में उन पर जासूसी और आतंकवादी संगठनों के साथ संबंध रखने का आरोप लगाया गया था।

Khabar IndiaTv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी रीड करते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें khabarindiaTv का विदेश सेक्‍शन
Web Title: Turkey to freeze assets of 2 US officials as retaliation
Promoted Content
Write a comment
atal-bihari-vajpayee
monsoon-climate-change