1. You Are At:
  2. होम
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. भारत और फिलीपीन ने कई क्षेत्रों में 4 समझौतों पर किए हस्ताक्षर

भारत और फिलीपीन ने कई क्षेत्रों में 4 समझौतों पर किए हस्ताक्षर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की फिलीपीन के राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते के साथ द्विपक्षीय संबंधों के विभिन्न क्षेत्रों को लेकर विस्तृत बातचीत के बाद दोनों देशों ने रक्षा एवं सुरक्षा सहित कई क्षेत्रों में सहयोग के लिए चार समझौतों पर हस्ताक्षर किए।

Edited by: India TV News Desk [Published on:14 Nov 2017, 6:49 AM IST]
 India and Philippine signed 4 agreements in many areas- Khabar IndiaTV
India and Philippine signed 4 agreements in many areas

मनीला: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की फिलीपीन के राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते के साथ द्विपक्षीय संबंधों के विभिन्न क्षेत्रों को लेकर विस्तृत बातचीत के बाद दोनों देशों ने रक्षा एवं सुरक्षा सहित कई क्षेत्रों में सहयोग के लिए चार समझौतों पर हस्ताक्षर किए। दोनों नेताओं ने आतंकवाद को दोनों देशों एवं क्षेत्र के सामने मौजूद बड़ा खतरा बताते हुए इस चुनौती से प्रभावशाली तरीके से निपटने के लिए द्विपक्षीय सहयोग बढ़ाने का संकल्प लिया। विदेश मंत्रालय में सचिव (पूर्व) प्रीति सरण ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘दोनों नेताओं ने कहा कि आतंकवाद की समस्या से प्रभावशाली तरीके से निपटना होगा। यह बैठक का एक महत्वपूर्ण नतीजा रहा।’’ (पाकिस्तान: पत्नी को कुलभूषण जाधव से मिलने की इजाजत देने के पीछे इस देश का दबाव?)

प्रधानमंत्री ने बैठक को ‘‘सार्थक’’ बताया। मोदी ने ट्विटर पर लिखा, ‘‘राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते के साथ एक सार्थक बैठक हुई। हमने भारत-फिलीपीन के बीच खासकर व्यापार एवं संस्कृति क्षेत्रों में द्विपक्षीय सहयोग बढ़ाने पर विस्तृत चर्चा की।’’ मोदी पिछले 36 सालों में फिलीपीन का द्विपक्षीय दौरा करने वाले देश के पहले प्रधानमंत्री हैं, हालांकि मनमोहन सिंह प्रधानमंत्री के तौर पर एक बहुपक्षीय बैठक के लिए दक्षिणपूर्वी देश की यात्रा कर चुके हैं। प्रीति ने कहा कि रक्षा सहयोग से संबंधित समझौता एक महत्वपूर्ण नतीजा रहा क्योंकि इससे साजो सामान के क्षेत्र सहित विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग को बढ़ावा मिलेगा।

दूसरे समझौतों से कृषि और सूक्ष्म एवं लघु उद्योगों के क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने में मदद मिलेगी। उन्होंने बताया कि फिलीपीनी राष्ट्रपति ने भारत के साथ ‘‘मजबूत’’ संबंधों की वकालत की और खासतौर पर दवा के क्षेत्र में भारत से और ज्यादा निवेश का आह्वान किया। दुतेर्ते ने यह भी कहा कि भारतीय बुनियादी ढांचा कंपनियां देश में अवसर तलाश सकती हैं। मोदी जापानी प्रधानमंत्री शिंजो आबे, न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न और कई दूसरे नेताओं के साथ भी द्विपक्षीय बैठक करेंगे।

Promoted Content
auto-expo