1. You Are At:
  2. होम
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. ब्रेग्जिट के कारण मुझे रातों को नींद नहीं आती: ब्रिटिश प्रधानमंत्री

ब्रेग्जिट के कारण मुझे रातों को नींद नहीं आती: ब्रिटिश प्रधानमंत्री

ब्रिटिश प्रधानमंत्री टेरेसा मे ने स्वीकार किया है कि ब्रेग्जिट पर ब्रिटेन के लिए सर्वश्रेष्ठ संभावित सौदा सुनिश्चित करने की चुनौतियां उन्हें रातों को सोने नहीं देतीं।

Bhasha [Published on:27 Nov 2016, 7:43 PM IST]
Theresa May | AP File Photo- Khabar IndiaTV
Theresa May | AP File Photo

लंदन: ब्रिटिश प्रधानमंत्री टेरेसा मे ने स्वीकार किया है कि ब्रेग्जिट पर ब्रिटेन के लिए सर्वश्रेष्ठ संभावित सौदा सुनिश्चित करने की चुनौतियां उन्हें रातों को सोने नहीं देतीं। एक अंग्रेजी मैगजीन को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि ब्रिटेन के यूरोपीय संघ (EU) से अलग होने पर ईयू से बातचीत के कारण वे रातों में देर तक काम करती हैं।

देश-दुनिया की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

प्रधानमंत्री (60) ने कहा, ‘इस काम में आपको सोने का ज्यादा समय नहीं मिलता।’ टेरेसा 13 जुलाई को प्रधानमंत्री बनी थीं और वे माग्रेट थैचर के बाद ब्रिटेन की केवल दूसरी महिला प्रधानमंत्री हैं। सबसे बड़ी चिंताएं और रातों को जागने के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘यह बदलाव का क्षण है। यह बहुत चुनौतीपूर्ण समय है। और हमें ब्रेग्जिट के संदर्भ में तैयार होने की जरूरत है। और मैं इसे लेकर बहुत संजीदा हूं।’ उन्होंने कहा, ‘मैं यह करना चाहती हूं कि मैं जो भी करूं वह सुनिश्चित करे कि ब्रिटेन सभी के लिए काम करने वाला देश हो। और बाहर निकलकर ब्रेग्जिट के बाद दुनिया में नई भूमिका तय करे।’

टेरेसा ने कहा, ‘हम इसे सफल बना सकते हैं, हम इसे सफल बनाएंगे लेकिन ये वास्तव में जटिल मुद्दे हैं। हमें ब्रेग्जिट के संदर्भ में तैयार होने की जरूरत है। हम ब्रिटेन के लिए सर्वश्रेष्ठ संभव समझौता करना है।’ अब तक के सबसे व्यक्तिगत साक्षात्कारों में से एक में टेरेसा ने कहा कि उनके पति फिलिप जॉन मे उन्हें कपड़ों औैर अन्य सामान पर सलाह देते हैं।

Promoted Content
auto-expo