1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. मेरा पैसा
  5. Gold ETF से निवेशकों का बाहर निकलना है जारी, पिछले वित्त वर्ष में निकाले 835 करोड़ रुपए

Gold ETF से निवेशकों का बाहर निकलना है जारी, पिछले वित्त वर्ष में निकाले 835 करोड़ रुपए

गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स (ETF) से निवेशकों का बाहर निकलना जारी है। वित्त वर्ष 2017-18 में निवेशकों ने Gold ETF से 835 करोड़ रुपए और निकाले। इस तरह यह लगातार पांचवां वित्त वर्ष रहा जबकि Gold ETF में कुल मिला कर निवेश से ज्यादा निकासी हुई है।

Edited by: Manish Mishra [Updated:10 Apr 2018, 3:20 PM IST]
Investors withdraw Rs 835 crore from gold ETF in FY18- IndiaTV Paisa

Investors withdraw Rs 835 crore from gold ETF in FY18

 

नई दिल्‍ली। गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स (ETF) से निवेशकों का बाहर निकलना जारी है। वित्त वर्ष 2017-18 में निवेशकों ने Gold ETF से 835 करोड़ रुपए और निकाले। इस तरह यह लगातार पांचवां वित्त वर्ष रहा जबकि Gold ETF में कुल मिला कर निवेश से ज्यादा निकासी हुई है। एसोसिएशन आफ म्यूचुअल फंड्स इन इंडिया (AMFI) के ताजा आंकड़ों के अनुसार हालिया समाप्त वित्त वर्षा में गोल्‍ड फंडों के प्रबंधन के तहत परिसंपत्तियां (AUM) 12 प्रतिशत घट गईं।

Fundsindia.com की म्यूचुअल फंड रिसर्च प्रमुख विद्या बाला ने कहा कि कुछेक महीनों को छोड़ दिया जाए तो फरवरी 2013 से भारत में Gold ETF में निवेश में कमी आई है। इसके अलावा निवेशक अब परंपरागत संपत्ति वर्ग मसलन रियल एस्टेट और सोने से वित्तीय संपत्तियां जैसे शेयरों की ओर रुख कर रहे हैं। पिछले पांच साल के दौरान Gold ETF में कारोबार सुस्त रहा है।

वित्त वर्ष 2016-17 में इससे 775 करोड़ रुपए की शुद्ध निकासी हुई। 2015-16 में इससे 903 करोड़ रुपए, 2014-15 में 1,475 करोड़ रुपए और 2013-14 में 2,293 करोड़ रुपए की निकासी हुई थी। हालांकि, 2012-13 में इसमें 1,414 करोड़ रुपए का शुद्ध निवेश हुआ था।

Promoted Content
IPL 2018