1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. टाटा स्टील के प्लांट तत्काल नहीं होंगे बंद: ब्रिटेन सरकार

टाटा स्टील के प्लांट तत्काल नहीं होंगे बंद: ब्रिटेन सरकार

ब्रिटेन की सरकार ने टाटा स्टील के घाटे में चल रहे पोर्ट टालबोट स्थित प्लांटों में हजारों रोजगारों को बचाने के लिए कंपनी से विराम हासिल कर लिया है।

Dharmender Chaudhary [Published on:13 Apr 2016, 10:31 AM IST]
हजारों कर्मचारियों की नौकरी बचाने में कामयाब रही ब्रिटेन सरकार, अभी बंद नहीं होंगे टाटा स्टील के प्लांट- IndiaTV Paisa
हजारों कर्मचारियों की नौकरी बचाने में कामयाब रही ब्रिटेन सरकार, अभी बंद नहीं होंगे टाटा स्टील के प्लांट

लंदन। ब्रिटेन की सरकार ने टाटा स्टील के घाटे में चल रहे पोर्ट टालबोट स्थित प्लांटों में हजारों रोजगारों को बचाने के लिए कंपनी से विराम हासिल कर लिया है। देश के व्यापार मंत्री साजिद जाविद ने संसद को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा, टाटा ने कुछ हफ्ते पहले मुझसे संपर्क किया और आगाह किया कि वे अपने कारोबार के कुछ हिस्से को बेचने की योजना बना रहे हैं। लेकिन उनकी अपनी पोर्ट टालबोट इकाई को तुरंत बेचने की योजना है। मेरी टीम द्वारा किए गए कार्य के चलते-हमने खरीददार की खोज तक राहत हासिल कर ली है।

जाविद ने हाऊस ऑफ कॉमंस में देश के स्टील इंडस्ट्री के मौजूदा संकट पर आपात बैठक के दौरान यह जानकारी दी। उन्होंने कहा, निवेशक जानते हैं कि ब्रिटिश इस्पात दुनिया में श्रेष्ठ है, ब्रिटिश स्टील कर्मचारी दुनिया में श्रेष्ठ हैं और सरकार इस उद्योग के साथ है। सोमवार को टाटा व ब्रिटेन की निवेश फर्म ग्रेबुल कैपिटल ने कंपनी की लांग प्राडक्ट यूरोप इकाई को खरीदने के लिए समझौते की घोषणा की थी।

टाटा स्टील ने सोमवार को नकदी संकट से जूझ रहे ब्रिटेन के अपने कारोबार को बेचने की शुरूआत कर दी है। इस क्रम में अपने गर्डर, सरिया इत्यादि उत्पादों के कारोबार को एक नाम मात्र की एक कीमत पर निवेश कंपनी ग्रेबुल कैपिटल को बेचने का सौदा किया है। कंपनी ने अपनी अनुषंगी कंपनी टाटा स्टील यूके की पूरी हिस्सेदारी बेचने के केपीएमजी एलएलसी को प्रक्रिया संबंधी सलाहकार और स्लॉटर एवं मे को कानूनी सलाहकार नियुक्त किया है। समूह यह बिक्री पूरी तरह, लेकिन जल्दी बेचने करना चाहता है।

Web Title: हजारों कर्मचारियों की नौकरी बचाने में कामयाब रही ब्रिटेन सरकार
Promoted Content
Write a comment
monsoon-climate-change