1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. जजों की प्रेस कॉन्फ्रेंस से सहमे बाजार में फिर लौटी खरीदारी, सेंसेक्स और निफ्टी रिकॉर्ड ऊंचाई पर बंद

जजों की प्रेस कॉन्फ्रेंस से सहमे बाजार में फिर लौटी खरीदारी, सेंसेक्स और निफ्टी रिकॉर्ड ऊंचाई पर बंद

4 जजों की प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद भारतीय शेयर बाजार में अचानक तेज गिरावट आई थी लेकिन बाद में खरीदारी लौटी और बाजार फिर से रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ

Reported by: Manoj Kumar [Updated:12 Jan 2018, 4:22 PM IST]
Sensex and Nifty- IndiaTV Paisa
Sensex and Nifty again at New High

नई दिल्ली। शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट के 4 जजों की प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद भारतीय शेयर बाजार में जो अचानक तेज गिरावट देखने को मिली थी उसपर बाद में विराम लगा और बाजार में फिर खरीदारी लौटी, सेंसेक्स और निफ्टी एक बार फिर से रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुए हैं। बाजार बंद होने के समय सेंसेक्स 88.90 प्वाइंट की तेजी के साथ 34592.39 के स्तर पर था वहीं निफ्टी 30.05 प्वाइंट की तेजी के साथ 10,681.25 पर बंद हुआ।सेंसेक्स ने आज शुरुआती कारोबार में 34,638.42 की रिकॉर्ड ऊंचाई को छुआ था और निफ्टी भी 10,690.25 की रिकॉर्ड ऊंचाई तक गया था लेकिन जैसे ही सुप्रीम कोर्ट के 4 जजों ने मुख्य जज पर निशाना साधते हुए प्रेस कॉन्फ्रेंस की तो शेयर बाजार में अचनानक तेज गिरावट आ गई। सेंसेक्स रिकॉर्ड ऊंचाई से 296 प्वाइंट फिसलकर 34,342.16 के निचले स्तर तक आ गया, निफ्टी ने भी 10,597.10 का निचला स्तर छुआ। हालांकि बाद में बाजार में रिकवरी लौटी।

सुप्रीम कोर्ट जस्टिस पी चेलामेश्वर, रंजन गोगोई, मदन लोकुर और कुरियन जोसेफ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि कोर्ट के प्रसाशन में सब ठीक नहीं हो रहा है और उन्होंने इसके बारे में मुख्य जज दीपक मिश्रा से भी कहा था लेकिन कोई बात नहीं बनी। 

शेयर बाजार में आज सबसे ज्यादा तेजी मीडिया, मेटल और  बैंक इंडेक्स में देखने को मिली है, शेयरों की बात करें तो निफ्टी पर सबसे ज्यादा तेजी जी एंटरटेनमेंट, आईसीआईसीआई बैंक, इंफ्राटेल, वेदांत, मारुति, हिंदुस्तान पेट्रोलियम और ओएनजीसी के शेयरों में देखने को मिली, सबसे ज्यादा बिकवाली लुपिन, यूपीएल और भारती एयरटेल के शेयरों में दर्ज की गई। 

Web Title: जजों की प्रेस कॉन्फ्रेंस से सहमे बाजार में फिर लौटी खरीदारी, सेंसेक्स और निफ्टी रिकॉर्ड ऊंचाई पर बंद
Promoted Content
Write a comment
atal-bihari-vajpayee
monsoon-climate-change