1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. SBI को IBC के तहत निपटान प्रक्रिया से 30,000 करोड़ रुपए की वसूली की उम्मीद, 78000 करोड़ है फंसा कर्ज

SBI को IBC के तहत निपटान प्रक्रिया से 30,000 करोड़ रुपए की वसूली की उम्मीद, 78000 करोड़ है फंसा कर्ज

भारतीय स्टेट बैंक (SBI) के वसूल नहीं हो रहे कर्जों के मामले देख रहे उप प्रबंध निदेशक (DMD) पल्लव महापात्रा ने कहा कि भारतीय रिजर्व बैंक ने आईबीसी के तहत निपटान के लिए कर्जदारों की दो सूची भेजी है उसमें एसबीआई का अकेले का फंसा धन कुल मिलाकर लगभग 78000 करोड़ रुपए है।

Edited by: Manish Mishra [Updated:10 Jun 2018, 11:19 AM IST]
SBI- IndiaTV Paisa

SBI

कोलकाता। देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई को ऋणशोधन व दिवाला संहिता (IBC) के तहत निपटान प्रक्रिया से मौजूदा वित्त वर्ष में अपने लगभग 30,000 करोड़ रुपए वसूल होने की उम्मीद है। भारतीय स्टेट बैंक (SBI) के वसूल नहीं हो रहे कर्जों के मामले देख रहे उप प्रबंध निदेशक (DMD) पल्लव महापात्रा ने कहा कि भारतीय रिजर्व बैंक ने आईबीसी के तहत निपटान के लिए कर्जदारों की दो सूची भेजी है उसमें एसबीआई का अकेले का फंसा धन कुल मिलाकर लगभग 78000 करोड़ रुपए है। भूषण स्टील-टाटा स्टील के समाधान से यह बैंक 8,500 करोड़ रुपए की वसूली करने में सफल रहा है।

उन्होंने कहा कि इसी तरह इलेक्ट्रोस्टील-वेदांता सौदे से बैंक को 6000 करोड़ रुपए की वसूली होने की उम्मीद है। बैंक का कुल एनपीए 2.20 लाख करोड़ रुपए का है। उन्होंने कहा कि आईबीसी के तहत निपटान प्रक्रिया के साथ-साथ बैंक को एकमुश्त निपटान, एआरसी की बिक्री आदि से 10000 करोड़ रुपए और मिलने की उम्मीद है।

बैंक ने कुल मिलाकर 95000 करोड़ रुपए के लिए आईबीसी के तहत 250 मामले दाखिल किए हैं। महापात्रा ने कहा कि जो भी दबाव वाली परिसंपत्तियां थीं, उन्हें चिन्हित कर लिया गया है। हमें पूरी राशि की वसूली की उम्मीद नहीं है।

Web Title: SBI को IBC के तहत निपटान प्रक्रिया से 30,000 करोड़ रुपए की वसूली की उम्मीद, 78000 करोड़ है फंसा कर्ज
Promoted Content
Write a comment
monsoon-climate-change