1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. ATM से अचानक कैश गायब होने पर राहुल गांधी ने पीएम पर बोला हमला, कहा - मोदी ने बैंकिंग प्रणाली को बर्बाद कर दिया

ATM से अचानक कैश गायब होने पर राहुल गांधी ने पीएम पर बोला हमला, कहा - मोदी ने बैंकिंग प्रणाली को बर्बाद कर दिया

देश के कई राज्यों में ATM (ऑटोमेटेड टेलर मशीन) से अचानक नकदी गायब होने के बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा और कहा कि भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी व मेहुल चोकसी को 'अच्छे दिन' मुहैया कराकर उन्होंने देश की बैंकिंग प्रणाली को बर्बाद कर दिया है।

Edited by: Manish Mishra [Updated:17 Apr 2018, 3:52 PM IST]
ATM cash crunch- IndiaTV Paisa

ATM cash crunch

 

अमेठी देश के कई राज्यों में ATM (ऑटोमेटेड टेलर मशीन) से अचानक नकदी गायब होने के बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा और कहा कि भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी व मेहुल चोकसी को 'अच्छे दिन' मुहैया कराकर उन्होंने देश की बैंकिंग प्रणाली को बर्बाद कर दिया है। राहुल ने हीरा कारोबारियों द्वारा किए गए बैंकिंग घोटाले पर चुप्पी साधने के लिए भी मोदी की आलोचना की। राहुल ने कहा कि मोदीजी ने बैंकिंग प्रणाली को बर्बाद कर दिया। नीरव मोदी 30,000 करोड़ रुपए लेकर भाग गया और प्रधानमंत्री ने एक शब्द भी नहीं कहा।

उन्होंने कहा कि हमें कतार में खड़े होने के लिए मजबूर किया गया, क्योंकि उन्होंने हमारी जेब से 500-1000 रुपए के नोट लेकर नीरव मोदी की जेब में डाल दिया। राहुल देश के एटीएम में नगदी नहीं होने के सवाल का जवाब दे रहे थे। राहुल ने कहा कि प्रधानमंत्री बजट सत्र के दूसरे चरण में बोलने से डरे हुए थे। इस चरण में विभिन्न पार्टियों द्वारा विरोध-प्रदर्शन की वजह से कामकाज नहीं हो पाया था।

उन्होंने कहा कि अगर हमें संसद में राफेल मुद्दे, नीरव मोदी के मामले में बोलने दिया गया होता, तो प्रधानमंत्री हमारा सामना नहीं कर पाते। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि मोदी व्यक्तिगत तौर पर नीरव मोदी और चोकसी को जानते हैं और उन्हें 'नीरव भाई' और 'मेहुल भाई' कहकर पुकारते थे।

राहुल ने कहा कि देश के लिए उनके (प्रधानमंत्री) द्वारा किया गया 'अच्छे दिन' का वादा नीरव मोदी और मेहुल चोकसी समेत केवल 15 लोगों के लिए था। किसान, मजदूर, दिहाड़ी मजदूर समेत इस देश के गरीबों के लिए ये सिर्फ 'बुरे दिन' हैं।

Promoted Content
IPL 2018