1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. कोर सेक्‍टर की ग्रोथ फि‍र घटी, मई में 2.8 फीसदी रही वृद्धि दर

कोर सेक्‍टर की ग्रोथ फि‍र घटी, मई में 2.8 फीसदी रही वृद्धि दर

सरकार और अर्थव्‍यवस्‍था के लिए यह खबर झटका देने वाली है। मई में आठ बुनियादी कोर सेक्‍टर की वृद्धि दर घटकर 2.8 फीसदी रही है। पिछले साल यह दर 4.4 फीसदी थी।

Sachin Chaturvedi [Published on:30 Jun 2016, 7:07 PM IST]
कोर सेक्‍टर की ग्रोथ फि‍र घटी, मई में 2.8 फीसदी रही वृद्धि दर- IndiaTV Paisa
कोर सेक्‍टर की ग्रोथ फि‍र घटी, मई में 2.8 फीसदी रही वृद्धि दर

नई दिल्‍ली। सरकार और अर्थव्‍यवस्‍था के लिए यह खबर झटका देने वाली है। मई में आठ बुनियादी उद्योगों (कोर सेक्‍टर) की वृद्धि दर घटकर 2.8 फीसदी रही है। पिछले साल समान महीने में यह दर 4.4 फीसदी थी। देश के कुल इंडस्ट्रियल प्रोडक्‍शन में कोर सेक्‍टर की हिस्‍सेदारी करीब 38 फीसदी है। महीने दर महीने आधार पर मई में कोर इंडस्‍ट्री की ग्रोथ घटी है। अप्रैल में कोर इंडस्‍ट्री की ग्रोथ बढ़कर 8.5 फीसदी पर पहुंच गई थी।

बिजली के उत्‍पादन में गिरावट आई है। महीने दर महीने आधार पर मई में बिजली उत्पादन 14.7 फीसदी से घटकर 4.6 फीसदी रहा है। महीने दर महीने आधार पर मई में स्टील का उत्पादन 6.1 फीसदी से घटकर 3.2 फीसदी रहा है। मई में सीमेंट का उत्‍पादन भी महीने दर महीने आधार पर 4.4 फीसदी से घटकर 2.4 फीसदी रहा है। हालांकि कोयला उत्पादन की ग्रोथ बढ़ गई है। महीने दर महीने आधार पर मई में कोयले का उत्पादन -0.9 फीसदी से बढ़कर 5.5 फीसदी रहा है। महीने दर महीने आधार पर मई में फर्टिलाइजर्स का उत्पादन भी 7.8 फीसदी से बढ़कर 14.8 फीसदी रहा है।

महीने दर महीने आधार पर मई में कच्चे तेल का उत्पादन -2.3 फीसदी से घटकर -3.3 फीसदी रहा है। महीने दर महीने आधार पर मई में नैचुरल गैस का उत्पादन -6.8 फीसदी से घटकर -6.9 फीसदी रहा है। महीने दर महीने आधार पर अप्रैल में रिफाइनरी प्रोडक्ट्स का उत्पादन 17.9 फीसदी से घटकर 1.2 फीसदी रहा है।

यह भी पढ़ें- चालू वित्त वर्ष में चालू खाते का घाटा जीडीपी के एक फीसदी से नीचे आ सकता है: सुब्रमण्‍यम

यह भी पढ़ें- देश के कारोबार में लौटी तेजी, प्रमुख 8 उद्योगों की वृद्धि दर अप्रैल में 8.5 फीसदी

Promoted Content
Write a comment
monsoon-climate-change
Sanju