1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. महंगाई के मोर्चे पर कुछ राहत, मार्च में थोक महंगाई दर 8 महीने के निचले स्तर पर

महंगाई के मोर्चे पर कुछ राहत, मार्च में थोक महंगाई दर 8 महीने के निचले स्तर पर

हालांकि पेट्रोलियम उत्पादों के दाम बढ़ने की वजह से फ्यूल एंड पावर बास्केट की महंगाई दर फरवरी के 3.81 प्रतिशत से बढ़कर 4.70 प्रतिशत हो गई है।

Reported by: Manoj Kumar [Updated:16 Apr 2018, 1:23 PM IST]
Inflation rate falls to 8 month low- IndiaTV Paisa

Inflation rate falls to 8 month low in March as food articles turn cheaper 

नई दिल्ली। महंगाई के मोर्चे पर मामूली राहत मिली है, थोक महंगाई दर लगभग 8 महीने के निचल स्तर तक आ गयी है। सरकार की तरफ से जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक मार्च के दौरान थोक महंगाई दर घटकर 2.47 प्रतिशत रह गई है जो जुलाई 2017 के बाद सबसे कम मासिक महंगाई दर है। मार्च से पहले फरवरी में थोक महंगाई दर 2.48 प्रतिशत थी और पिछले साल मार्च के दौरान यह 5.11 प्रतिशत थी।

आंकड़ों के मुताबिक मार्च में मैन्युफैक्चर्ड उत्पादों के लिए मार्च में महंगाई दर घटकर 3.03 प्रतिशत दर्ज की गई है, इससे पहले पिछले साल मार्च में में यह दर 3.22 प्रतिशत थी। खाद्य उत्पादों की महंगाई दर घटकर 0.29 प्रतिशत दर्ज की गई है, मार्च से पहले फरवरी में यह दर 0.88 प्रतिशत थी। सब्जियों, दालों और गेहूं की कीमतों में गिरावट से खाद्य उत्पादों की महंगाई दर में कमी आई है, सब्जियों की दर -2.70 प्रतिशत, दालों की -20.58 प्रतिशत और गेहूं की -1.19 प्रतिशत दर्ज की गई है।

हालांकि पेट्रोलियम उत्पादों के दाम बढ़ने की वजह से फ्यूल एंड पावर बास्केट की महंगाई दर फरवरी के 3.81 प्रतिशत से बढ़कर 4.70 प्रतिशत हो गई है।

Promoted Content
Write a comment
monsoon-climate-change
Sanju