1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. फ्लिपकार्ट से अलग हो सकते हैं को-फाउंडर सचिन बंसल, अगले हफ्ते हो सकता वॉलमार्ट से सौदा

फ्लिपकार्ट से अलग हो सकते हैं को-फाउंडर सचिन बंसल, अगले हफ्ते हो सकता वॉलमार्ट से सौदा

देश की सबसे बड़ी ईकॉमर्स वेबसाइट फ्लिपकार्ट के बिकने की चर्चाओं के बीच अब खबर आई है कि कंपनी के को-फाउंडर और एग्जेक्यूटिव चेयरमैन सचिन बंसल कंपनी छोड़ सकते है।

Written by: India TV Paisa [Updated:04 May 2018, 11:55 AM IST]
sachin bansal- IndiaTV Paisa

sachin bansal

नई दिल्‍ली। देश की सबसे बड़ी ईकॉमर्स वेबसाइट फ्लिपकार्ट के बिकने की चर्चाओं के बीच अब खबर आई है कि कंपनी के को-फाउंडर और एग्जेक्यूटिव चेयरमैन सचिन बंसल कंपनी छोड़ सकते है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार अमेरिका की बड़ी रिटेल कंपनी वॉल्मार्ट के साथ फ्लिपकार्ट की डील अंतिम पड़ाव पर है और अगले हफ्ते तक यह सौदा फाइनल हो सकता है। दूसरी ओर फ्लिपकार्ट पर दांव लगा रही अमेजन ने फ्लिपकार्ट में 60 फीसदी हिस्‍सेदारी खरीदने का ऑफर दिया है। लेकिन माना जा रहा है कि वॉलमार्ट इस डील के ज्‍यादा करीब है। सूत्रों के मुताबिक सचिन बंसल फ्लिपकार्ट में अपनी हिस्सेदारी बेचने के लिए तैयार नहीं है। आपको बता दें कि अमेरिका की दो बड़ी दिग्गज कंपनी अमेजन और वॉल्मार्ट को खरीदने के लिए एक दूसरे को कड़ी टक्कर दे रही है।

अंग्रेजी अखबार इकोनोमिक टाइम्‍स में छपी खबर के मुताबिक वॉल्‍मार्ट से करार के बाद सचिन बंसल अपना पद छोड़ सकते हैं लेकिन उनके पार्टनर बिन्‍नी बंसल फ्लिपकार्ट में बने रह सकते हैं। हालांकि अखबार के सवालों पर फ्लिपकार्ट की ओर से कोई आधिकारिक बयान नहीं‍ मिला है। इस मामले से जुड़े लोगों के अनुसार वॉल्‍मार्ट दोनों में से सिर्फ एक को ही कंपनी में रखना चा‍हती है। आपको बता दें कि फ्लिपकार्ट में सचिन बंसल और बिन्‍नी बंसल की हिस्‍सेदारी 10 फीसदी की है। जिसमें सचिन बंसल की हिस्‍सेदारी 5.5 फीसदी है। अभी यह स्‍पष्‍ट नहीं हुआ है कि सचिन बंसल अपनी कितनी हिस्‍सेदारी बेचेंगे।

वहीं सॉफ्टबैंक की हिस्‍सेदारी 23.6 फीसदी है। इसके अलावा टाइगर ग्‍लोबल की हिस्‍सेदारी 20.5 फीसदी और नेस्‍पर्स की हिस्‍सेदारी 13 फीसदी है। फ्लिपकार्ट की बात करें तो कंपनी की वार्षिक आय करीब 20000 डॉलर है। कंपनी की वैल्‍युएशन 18 से 20 बिलियन डॉलर के करीब बताई जा रही है।

Promoted Content
Write a comment
monsoon-climate-change
Sanju