1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. जनवरी में आठ बुनियादी उद्योगों की वृद्धि दर रही 6.7 प्रतिशत, रिफाइनरी और सीमेंट उत्पादन में आया जोरदार उछाल

जनवरी में आठ बुनियादी उद्योगों की वृद्धि दर रही 6.7 प्रतिशत, रिफाइनरी और सीमेंट उत्पादन में आया जोरदार उछाल

पेट्रोलियम रिफाइनरी और सीमेंट उत्पादन में जोरदार बढ़ोतरी से जनवरी महीने में बुनियादी उद्योगों की वृद्धि दर 6.7 प्रतिशत रही है। समीक्षाधीन महीने में इस्पात, बिजली और कोयला उत्पादन में गिरावट आई।

Edited by: Abhishek Shrivastava [Updated:28 Feb 2018, 8:19 PM IST]
core sector- IndiaTV Paisa
core sector

नई दिल्ली। पेट्रोलियम रिफाइनरी और सीमेंट उत्पादन में जोरदार बढ़ोतरी से जनवरी महीने में बुनियादी उद्योगों की वृद्धि दर 6.7 प्रतिशत रही है। समीक्षाधीन महीने में इस्पात, बिजली और कोयला उत्पादन में गिरावट आई। दिसंबर में आठ बुनियादी उद्योगों- कोयला, कच्चा तेल, प्राकृतिक गैस, रिफाइनरी उत्पाद, उर्वरक, इस्पात, सीमेंट और बिजली का उत्पादन 4.2 प्रतिशत बढ़ा था, जबकि नवंबर में बुनियादी उद्योगों की वृद्धि दर 7.4 प्रतिशत रही थी। 

जनवरी में पेट्रोलियम रिफाइनरी उत्पादों का उत्पादन 11 प्रतिशत बढ़ा, जबकि एक साल पहले समान महीने में यह स्थिर रहा था। सीमेंट उत्पादन में 20.7 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई, जबकि एक साल पहले समान महीने में इसमें 13.3 प्रतिशत की गिरावट आई थी। इसी तरह जनवरी में बिजली उत्पादन 8.2 प्रतिशत बढ़ा जबकि जनवरी, 2017 में यह 5.2 प्रतिशत बढ़ा था। 

जनवरी में कोयले क्षेत्र के उत्पादन में तीन प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई, जबकि इस्पात उत्पादन 3.7 प्रतिशत बढ़ा है। हालांकि, माह के दौरान कच्चे तेल का उत्पादन 3.2 प्रतिशत घट गया, जबकि उर्वरक उत्पादन में 1.6 प्रतिशत और प्राकृतिक गैस उत्पादन में एक प्रतिशत की गिरावट आई। 

कुल मिलाकर चालू वित्त वर्ष में अप्रैल से जनवरी की अवधि में आठ बुनियादी उद्योगों की वृद्धि दर घटकर 4.3 प्रतिशत रह गई, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में 5.1 प्रतिशत रही थी। 

बुनियादी उद्योगों की वृद्धि दर का कुल औद्योगिक उत्पादन (आईआईपी) के आंकड़ों पर असर पड़ता है। कुल कारखाना उत्पादन में बुनियादी उद्योगों का हिस्सा 41 प्रतिशत बैठता है। 

Promoted Content
IPL 2018