1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. ऑटो
  5. 2017 में बंद हो गई ये 5 कारें, मारुति से लेकर हुंडई तक ने उठाया ये बड़ा कदम

2017 में बंद हो गई ये 5 कारें, मारुति से लेकर हुंडई तक ने उठाया ये बड़ा कदम

कई कंपनियों ने अपने कई सारी ऐसी फ्लॉप कारों को बंद कर दिया, जो कि लंबे समय से बाजार में खराब प्रदर्शन कर रही थीं, साथ ही कंपनियों को अब आने वाले समय में भी इनसे कोई खास उम्‍मीद बची थी।

Written by: India TV Paisa [Updated:28 Dec 2017, 5:54 PM IST]
Skoda Yeti- IndiaTV Paisa
Skoda Yeti

नई दिल्‍ली। ऑटोमोबाइल सेक्‍टर के लिए बीता साल काफी उतार चढ़ाव से भरा रहा। 2017 में जहां अमेरिकी कंपनी जनरल मोटर्स ने भारतीय बाजार से गुडबाय करने की घोषणा की, वहीं दूसरी भी कई कंपनियों ने अपने कई सारी ऐसी फ्लॉप कारों को बंद कर दिया, जो कि लंबे समय से बाजार में खराब प्रदर्शन कर रही थीं, साथ ही कंपनियों को अब आने वाले समय में भी इनसे कोई खास उम्‍मीद बची थी। इसमें मारुति सुजुकी और हुंडई जैसी दो सबसे ज्‍यादा कारें बेचने वाली दिग्‍गज ऑटोमोबाइल कंपनियां भी शामिल हैं। आइए जानते हैं ऐसी कारों के बारे में जिन्‍होंने 2017 में भारतीय सड़कों को अलविदा कह दिया।

मारूति सुज़ुकी रिट्ज

2017 में बंद हुई कारों में सबसे चौंकाने वाला नाम मारुति सुजुकी का रहा। कंपनी ने अपनी लोकप्रिय हैचबैक कार रिट्ज़ को इस साल बाजार से बाहर कर दिया। मारूति सुज़ुकी रिट्ज को साल 2009 में लॉन्च किया गया था। भारत में रिट्ज आठ साल तक मौजूद रही। 8 साल में कंपनी ने इसकी चार लाख से ज्यादा यूनिट बेची। मारूति सुज़ुकी पिछले कुछ समय से नए मॉडल उतार रही है और जिसके कारण अपनी ही कंपनी की कारों से इसे मुकाबला करना पड़ रहा था। संभवत: इसी के चलते कंपनी ने इसका प्रोडक्‍शन बंद कर दिया।

ritz

हुंडई आई10

बंद होने वाली कारों में एक और चौंकाने वाला नाम हुंडई की आई10 का था। भारत में हुंडई ने इस कार को 2007 में लॉन्‍च किया था। कंपनी ने शुरुआत में इसे 1.2 लीटर पेट्रोल इंजन के साथ उतारा था, बाद में इसे 1.1 सीसी इंजन पर सीमित कर दिया गया। भारत में इसने करीब दस साल तक सड़कों पर रही। हुंडई ने सितम्बर 2013 में ग्रैंड आई10 का उतारा था। ग्रैंड आई10 के आने के बाद से ही पहली जनरेशन की आई10 बिक्री में पिछड़ गई और यही वजह है कि कंपनी ने इसे बंद करने का निर्णय लिया।

i1o

होंडा मोबिलियो

होंडा ने मारुति अर्टिगा, शेवरले इंजॉय, महिंद्रा जायलो जैसी कंपनियों के मुकाबले 7-सीटर मोबिलियो को 2014 में पेश किया था। लेकिन शुरू से इसके आंकड़े उत्‍साहजनक नहीं रहे। कंपनी ने इसमें फीचर्स देने में काफी कंजूसी की, जिसके चलते इसे कभी बिक्री की रफ्तार नहीं मिली। इस वजह से यह मुकाबले में मौजूद मारूति कार से पिछड़ गई। होंडा ने मार्च 2017 में मोबिलियो का प्रोडक्शन बंद कर दिया और जुलाई 2017 में इसकी बिक्री बंद कर दी थी।

Honda Mobilio

टाटा सफारी डायकोर

देश की अपनी एसयूवी कही जाने वाली टाटा सफारी डायकोर ने भारत में दो दशक लंबा सफर तय किया। इसे करीब 19 साल पहले 1998 के दौरान भारत में लॉन्‍च किया गया था। की पारी खेली है। साल 2012 में कंपनी ने इसके नए अवतार सफारी स्ट्रॉर्म को लॉन्च किया था। हालांकि इस के बाद भी सफारी डायकोर की बिक्री में कमी नहीं आई। सफारी स्ट्रॉर्म की बिक्री बढ़ाने के लिए कंपनी ने सफारी डायकोर को बंद करने का फैसला लिया।

tata

स्कोडा येती

स्‍कोडा की कारें भारतीय सड़कों पर करीब 2 दशकों से अधिक समय से हैं, लेकिन वे अभी तक भारतीयों के दिलों में वह जगह नहीं बना पाई हैं जिसकी वे हकदार हैं। स्कोडा की मिनी एसयूवी येती की कहानी भी इसी तरह है। इसे सात साल पहले 2010 में लॉन्च किया गया था। यह स्‍कोडा की पहली एसयूवी थी। लेकिन इसका छोटा आकार और महंगी कीमत इसके दो सबसे बड़े दुश्‍मन बने रहे। अंतत: कम बिक्री के चलते कंपनी ने मई 2017 में येती का प्रोडक्‍शन बंद कर दिया। 

Yeti

Promoted Content
Write a comment
international-yoga-day-2018
monsoon-climate-change
Sanju