1. You Are At:
  2. होम
  3. लाइफस्टाइल
  4. जीवन मंत्र
  5. दशहरा 2017: सीताहरण ही नहीं बल्कि इन शापों के कारण हुआ दशानन का वध

दशहरा 2017: सीताहरण ही नहीं बल्कि इन शापों के कारण हुआ दशानन का वध

श्री राम मे अत्याचारी रावण का वध किया था, क्योंकि उसमें मां सीता का अपहरण किया था, लेकिन उसके वध को लेकर और भी कारण है। जानिए किन शापों के कारण हुआ रावण का वध..

Edited by: India TV Lifestyle Desk [Updated:29 Sep 2017, 1:38 PM IST]
dussehra- Khabar IndiaTV
dussehra

धर्म डेस्क: हमारे देश में जितने भी त्योहार मनाए जाते हैं उनके पीछे कुछ न कुछ रहस्य या कहानी छिपी होती है। ऐसा ही एक त्योहार दशहरा भी है। जिसे पूरे देश में बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है. इस दिन को असत्य पर सत्य की विजय के तौर पर रावण का वध कर दहन किया जाता है।

शास्त्रों की मान्यता के अनुसार रावण बहुत ही विद्वानी, पराक्रमी था, लेकिन उसका अत्याचार, अंहकार उसके और उसके परिवार के साथ-साथ राज्य के लिए विनाश का कारण बना।

रामायण में मुताबिक श्री राम मे अत्याचारी रावण का वध किया था, क्योंकि उसमें मां सीता का अपहरण किया था, लेकिन उसके वध को लेकर और भी कारण है। जिसे वाल्मिकी रामायण में बहुत ही विस्तृत तरीके से बताया गया है। जानिए किन कारणों से हुआ रावण का वध।

  • माना जाता है कि रावण काफी बड़ा विद्वान था, लेकिन राक्षस प्रवृत्ति और अपनी शक्तियों पर घमंड हो जाने के कारण वह अत्याचार करने लगा था। जिसके कारण पूरी प्रजा के साथ-साथ देवी-देोवता भी परेशान हो चुके थे। जिसके कारण कई महीन ऋषियों ने उसे शाप दे दिया. जो कि उसकी मौंत का कारण बना।
  • इस रामायण के अनुसार रावण श्री राम के वंशज अनरण्य के राज्य में कब्जा करना चाहता है। जिसके कारण दोनों के बीच भीषण युद्ध हुआ। जिसमें राम को ब्रह्मा जी का वरदान मिलने के कारण अनरण्य हार गए और रावण उनका अपमान करने लगे। जिसके बाद क्रोधित होकर अनरण्य ने रावण को शाप देते हुए कहा कि मेरे वश का ही कोई व्यक्ति तेरे लिए काल बनेगा। वही आगे चलकर श्री राम के हाथों रावण का वध हुआ।  

ये भी पढ़ें:

अगली स्लाइड में पढ़ें और कारणों के बारें में

Promoted Content
auto-expo