1. You Are At:
  2. होम
  3. लाइफस्टाइल
  4. जीवन मंत्र
  5. इन पांच लोगों को खाना खिलाने का मौंक कभी न गंवाएं

इन पांच लोगों को खाना खिलाने का मौंक कभी न गंवाएं

नई दिल्ली: कहा जाता है कि भोजन कराना और पानी पिलाना सवाब का काम होता है। आदर्श जीवन के लिए हमें कभी भी किसी भूंखे को खाना खिलाने और प्यासे को पानी पिलाने से मना

India TV News Desk [Updated:26 Nov 2015, 5:16 PM IST]
इन पांच लोगों को खाना...- Khabar IndiaTV
इन पांच लोगों को खाना खिलाने का मौंक कभी न गंवाएं

नई दिल्ली: कहा जाता है कि भोजन कराना और पानी पिलाना सवाब का काम होता है। आदर्श जीवन के लिए हमें कभी भी किसी भूंखे को खाना खिलाने और प्यासे को पानी पिलाने से मना नहीं करना चाहिए। महाभारत में भी अच्छी नीतियों के संबंध में तमाम बातें कही गई हैं। महाभारत काल में पांच ऐसे लोगों के बारे में बताया गया है जिन्हें खाना खिलाना शुभ माना जाता है और ऐसे लोगों को खाना खिलाने का सौभाग्य कभी भी हाथ से नहीं छोड़ना चाहिए। जानिए किन लोगों को आपको खाना अवश्य खिलाना चाहिए और ऐसा मौका नहीं गंवाना चाहिए।

महाभारत में इस संबंध में एक श्लोक भी कहा गया है-  

पितृन् देवानृषीन् विप्रानतिथींश्च निराश्रयान्।

यो नरः प्रीणयत्यन्नैस्तस्य पुण्यफलं महत्।।

खाना बनाने के बाद एक बार भगवान को भोग जरूर लगाएं-

आमतौर पर लोग खाना पकाने के बाद सीधे परिजनों को थाली में परोसने लगते हैं, लेकिन ऐसा नहीं करना चाहिए। खाने का पहला भोग भगवान को लगाना चाहिए। यह हिंदू धर्म का एक बेहतर संस्कारा है जिसका पालन हर परिवार को करना चाहिए। कहा जाता है कि जिस घर में भोजन का पहला भोग भगवान को लगाया जाता है उस घर पर हमेशा भगवान की कृपा बनी रहती है। इसलिए भगवान को खाने का भोग लगाने का मौका नहीं गंवाना चाहिए।

अगली स्लाइड में पढ़ें खाना किसे जरूर खिलाएं-

Khabar IndiaTv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी रीड करते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Religion News in Hindi के लिए क्लिक करें khabarindiaTv का लाइफस्टाइल सेक्‍शन
Web Title: इन पांच लोगों को खाना खिलाने का मौंक कभी न गंवाएं
Promoted Content
Write a comment
independence-day-2018