1. You Are At:
  2. होम
  3. लाइफस्टाइल
  4. जीवन मंत्र
  5. 17 अप्रैल को बहुत ही खास नक्षत्र, राशिनुसार ये उपाय करने से रातों-रात हो जाएंगे मालामाल

17 अप्रैल को बहुत ही खास नक्षत्र, राशिनुसार ये उपाय करने से रातों-रात हो जाएंगे मालामाल

भरणी नक्षत्र के दौरान कुछ खास उपाय करने से विभिन्न राशि वालों की कैसे दिन-दुगनी, रात-चौगनी तरक्की होगी, कैसे कारोबार में तेजी आयेगी, कैसे दाम्पत्य जीवन में मधुरता आयेगी, कैसेआपकी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी, कैसे जीवनसाथी के मन में आपके लिये विश्वास कायम होगा, कैसे शत्रुओं से छुटकारा मिलेगा और कैसे जीवन में आपको सुख, समृद्धि और प्यार मिलेगा। जानिए आचार्य इंदु प्रकाश से राशिनुसार उपायों के बारें में।

Written by: India TV Lifestyle Desk [Updated:16 Apr 2018, 8:00 PM IST]
bharani nakshatra  - Khabar IndiaTV
bharani nakshatra  

धर्म डेस्क: 17 अप्रैल को वैशाख शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि है। इसके साथ ही पूरा दिन पार करके देर रात 01:57 तक भरणी नक्षत्र रहेगा। आकाशमंडल में स्थित 27 नक्षत्रों में से भरणी द्वितीय, यानी

दूसरा नक्षत्र है। भरणी का अर्थ होता है- भरण-पोषण करना। भरणी नक्षत्र के चारों चरण मेष राशि में आते हैं। इसका संबंध आंवले के पेड़ से है।

भरणी नक्षत्र में जन्मे लोगों या जिनका नाम ‘ल’ अक्षर से शुरू होता है, उन लोगों को भरणी नक्षत्र के दौरान आंवले का फल नहीं तोड़ना चाहिए और न ही खाना चाहिए। इन लोगों को आंवले के फल के साथ-साथ उसका आचार, सब्जी या मुरब्बा, उसके जूस या उससे बनी किसी भी चीज़ का सेवन नहीं करना चाहिए। नक्षत्र स्वामी की बात करें तो भरणी नक्षत्र के स्वामी शुक्राचार्य हैं।

भरणी नक्षत्र के दौरान कुछ खास उपाय करने से विभिन्न राशि वालों की कैसे दिन-दुगनी, रात-चौगनी तरक्की होगी, कैसे कारोबार में तेजी आयेगी, कैसे दाम्पत्य जीवन में मधुरता आयेगी, कैसे
आपकी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी, कैसे जीवनसाथी के मन में आपके लिये विश्वास कायम होगा, कैसे शत्रुओं से छुटकारा मिलेगा और कैसे जीवन में आपको सुख, समृद्धि और प्यार मिलेगा। जानिए आचार्य इंदु प्रकाश से राशिनुसार उपायों के बारें में।

मेष राशि
भरणी नक्षत्र के चारों चरण मेष राशि में आते हैं। अतः मेष राशि वालों अपनी तरक्की सुनिश्चित करने के लिये आज के दिन किसी भी रूप में आंवले के फल का सेवन आपको नहीं करना चाहिए। आपको आज के दिन रात 01:57 तक न ही आंवले का फल तोड़ना चाहिए, न ही उसकी सब्जी खानी चाहिए, न ही उसका आचार, मुरब्बा या कैंडी खानी चाहिए और न ही उसका जूस पीना चाहिए।

अन्यथा आज के दिन ऐसा करने से उस व्यक्ति को दोष लगता है और उसकी तरक्की में बाधा आती है। अतः अपनी तरक्की सुनिश्चित करने के लिये आज के दिन आंवले से संबंधित किसी भी चीज़ का सेवन न करके, आंवले के वृक्ष की पूजा करनी चाहिए और उसके दर्शन करके, हाथ जोड़कर प्रणाम करना चाहिए। इससे आपकी दिन-दुगनी, रात-चौगनी तरक्की होगी।

वृष राशि
यदि लाख परिश्रम के बाद भी आपके जीवनसाथी का कारोबार ठप्प हो गया है या फिर धीमी गति से चल रहा है तो आज के दिन भरणी नक्षत्र में दो हल्दी की गांठ लेकर आंवले के पेड़ के पास जमीन में दबा दें। ऐसा करने से एक बार फिर से आपका ठप्प पड़ा कारोबार फिर से चलने लगेगा और अगर आपका कारोबार धीमी गति से चल रहा था, तो वह फिर से तेज गति पकड़ने लगेगा।

अगली स्लाइड में पढ़ें और राशियों के बारें में

Khabar IndiaTv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी रीड करते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Religion News in Hindi के लिए क्लिक करें khabarindiaTv का लाइफस्टाइल सेक्‍शन
Web Title: Bharani nakshatra on 17 april 2018 tuesday do these measure for money and luck: 17 अप्रैल को बहुत ही खास नक्षत्र, राशिनुसार ये उपाय करने से रातों-रात हो जाएंगे मालामाल
Promoted Content
Write a comment
monsoon-climate-change
Sanju