1. You Are At:
  2. होम
  3. लाइफस्टाइल
  4. हेल्थ
  5. याददाश्त संबंधी समस्याओं के लिए वरदान है रेड वाइन

याददाश्त संबंधी समस्याओं के लिए वरदान है रेड वाइन

क शोध में ये बात सामने आई कि अगर रेड वाइन का सेवन किया जाएं तो आपकी एकाग्रता बढ़ सकती है। हाल में एक भारतीय वैज्ञानिक ने रेड वाइन में ऐसे तत्वों का पता लगाया है जिनका संबंध एल्जाइमर की समस्या को दूर करता है।

India TV Lifestyle Desk [Updated:30 Nov 2016, 4:19 PM IST]
red wine- Khabar IndiaTV
red wine

हेल्थ डेस्क: अगर हम कभी यह बोल दे कि मैं भूल गया तो कहा जाता है कि यह तो बुढापा के लक्षण है यूं तो कमजोर याददाश्त को बुढ़ापे की निशानी माना जाता है, लेकिन बार-बार भूलने की समस्या केवल बूढ़े लोगों में ही नही होती है जवान और बच्चों को भी हो सकती है।

ये भी पढ़े-

इसका मुख्य कारण है एकाग्रता की कमी। जब किसी इंसान की याददाश्त कम होती है तो इसके लिए उसे अपने दिमाग को सक्रिय रखने की जरुरत है। कभी-कभी यह कमजोरी हमारी समस्या का कारण बन सकती है। दिमाग हमारे शरीर का एक हिस्सा है।

एक शोध में ये बात सामने आई कि अगर रेड वाइन का सेवन किया जाएं तो आपकी एकाग्रता बढ़ सकती है। हाल में एक भारतीय वैज्ञानिक ने रेड वाइन में ऐसे तत्वों का पता लगाया है जिनका संबंध एल्जाइमर की समस्या को दूर करता है।

हाल में हुए एक शोध में यह माना गया है कि रेड वाइन में मौजूद एंटीएज‌िंग प्रोटीन रिजर्वेराट्रॉल एपोई4 और स‌रटी1 नामक तत्वों से संबंध है जिससे एल्जाइमर या याददाश्त से संबंधित समस्याओं से निपटने में दिमाग को आसानी होती है।

शोध में लगे भारतीय वैज्ञान‌िक राममोहन राव का मानना है कि एपोई4 नामक प्रोटीन की अधिकता वाले लोगों में एल्जाईमर का रिस्क अधिक होता है और रेड वाइन में मौजूद प्रोटीन रिजर्वेराट्रॉल इसे रोकने में मदद करता है।

शोधकर्ताओं का मानना है कि इस शोध से आगे चलकर याददाश्त संबंधी रोगों, खासतौर से एल्जाइमर का प्रभावी इलाज करने में आसानी हो सकती है लेकिन इसके लिए अभी अध्ययन की आवश्यकता है।

शोध का विस्तृत विवरण नेशनल एकेडमी ऑफ साइंसेज जर्नल में प्रकाशित हुआ है।

Promoted Content
auto-expo