1. You Are At:
  2. होम
  3. लाइफस्टाइल
  4. डेटिंग
  5. प्यार की एक कहानी सुनो, एक लड़का था..एक लड़की थी...

प्यार की एक कहानी सुनो, एक लड़का था..एक लड़की थी...

इन दिनों वैलेंटाइन वीक चल रहा है जिसके लिए हर कोई अपने चाहने वाले को खुश करने की कोशिश कर रहा है। जिधर देखों बस यहीं टॉपिक छिड़ा हुआ है। ऐसे में जानिए ऐसी ही एक प्यारी सी लवस्टोरी के बारें में...

Written by: India TV Lifestyle Desk [Updated:13 Feb 2018, 8:56 PM IST]
valentine couple nisha-manish- Khabar IndiaTV
valentine couple nisha-manish

यूं बन गया अफसाना

कहने को आप मेरे सीनियर थे.. लेकिन पहली बार हम फेसबुक पर मिले... वो भी म्यूचुअल फ्रेंड्स के जरिए... हालांकि, मिलने से पहले मेरी एक खास दोस्त ने मुझे आपका नाम बताया था ये कहकर कि आप एक परफेक्ट लाइफ पार्टनर हो सकते हो और मुझे आपसे मिलना चाहिए... लेकिन मैंने ये कहते हुए मना कर दिया था कि आप मेरे सीनियर हो और मैं आपके बारे में ऐसा सोच ही नहीं सकती... लेकिन किस्मत को तो कुछ और ही मंजूर था...

पहली मुलाकात...
आप मेरे ऑफिस आए थे और मेरे कलीग के बगल में बैठकर बात कर रहे थे। मैंने आपको पहचाना भी नहीं और इस बात को लेकर आप आज भी मेरा मजाक उड़ाते लेकिन तब कहा पता था कि आप मैं अपने जीवन साथी के साथ बैठी हूं... धीरे-धीरे फेसबुक पर बातें बढ़ी फिर नंबर एक्सचेंज किए.. जैसे-जैसे आपको जाना आपकी ओर खिंचती चली गईं... वक्त के साथ-साथ ये रिश्ता और मजबूत हुआ  और हम दोस्त से प्रेमी बन गए। लेकिन सबसे बड़ा इम्तिहान अभी बाकी था। हम शादी करना चाहते थे, लेकिन घरवालों का मानना बहुत मुश्किल था...

प्यार के साइट इफेक्ट्स...
आपके घरवालें लव मैरिज और इंटर कास्ट मैरिज के सख्त खिलाफ थे तो मेरे घरवाले अपनी बेटी को इतनी दूर बिहार नहीं भेजना चाहते थे। मैंने तो जैसे-तैसे अपने घरवालों को मना भी लिया, पर आपके यहां से हरी झंडी मिलना मुश्किल हो रहा था। लेकिन हमने हार नहीं मानी और चुपचाप इंतजार करते रहे आखिरकार हमारा इंतजार रंग लाया और आपके घरवालों ने हामी भर ही दी।

nisha and manish

शादी का यादगार पल...
ये शादी भी बड़ी अजीब थी... हमारे घरवाले पहली बार एक-दूसरे से मिल रहे थे वो भी शादी से एक दिन पहले... सब कुछ फोन पर ही तय हुआ था... मन में ढेर सारी चिंताए और घबराहट लिए हम मुजफ्फपुर (बिहार) चल दिए। लेकिन वहां जो हुआ वो सच में किसी खूबसूरत तोहफे से कम नहीं था। आपकी फैमिली ने मुझे अपनी बेटी की तरह अपनाया.. ऐसा लगा ही नहीं कि ये लव मैरिज थी जिसमें घरवालों की नाराजगी भी शामिल है। और सबसे मजेदार वाक्या जिसे में कभी नहीं भुला सकती- बिहार में काफी परदा चलता है ये सोचकर मैं लंबा सा घूंघट लेकर घर तक आई, लेकिन ये क्या घूंघट देखकर तो सासू मां ने जोर से डांट लगा दी और साफ कह दिया कि हमारे घर में इतना परदा नहीं चलता। हटाओ इसे। सच में उस वक्त उनकी डांट भी बड़ी मीठी लगी थी।

ये दूरियां...
इस वैलेंटाइन पर मैं आपको बस इतना ही कहना चाहती हूं कि थैंक्यू सो मच मेरी जिंदगी में आने के लिए और इसे हसीन बनाने के लिए। हालांकि, पिछले 2 सालों से हम लॉन्ग डिस्टेंस रिलेशनशिप में है... लेकिन प्यार ने कभी इन दूरियों का अहसास नहीं होने दिया।

Promoted Content
auto-expo