1. You Are At:
  2. होम
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. मध्य प्रदेश में कांग्रेस के पास न तो कोई चेहरा है, न कोई आधार है: प्रभात झा

मध्य प्रदेश में कांग्रेस के पास न तो कोई चेहरा है, न कोई आधार है: प्रभात झा

भाजपा नेता ने कहा, हम यहां फिर से सरकार बनाएंगे। हम लगातार चौथी बार राज्य में सरकार बनाएंगे और शिवराज सिंह चौहान फिर से मुख्यमंत्री बनेंगे।

Edited by: India TV News Desk [Updated:12 Aug 2018, 5:21 PM IST]
congress- Khabar IndiaTV
congress

नई दिल्ली: भाजपा की मध्य प्रदेश इकाई के पूर्व अध्यक्ष प्रभात झा ने कहा कि कांग्रेस ऐसी पार्टी है जिसके पास न तो कोई चेहरा है, न कोई आधार है, न कोई अर्थ है और न ही इसके पास कोई जन नेता है और आने वाले विधानसभा चुनाव में पार्टी का सफाया हो जाएगा। राज्य सभा सांसद झा भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हैं। उन्होंने दावा किया कि कोई सत्ता विरोधी लहर नहीं है और पिछले 15 वर्षों से राज्य की सत्ता पर काबिज भगवा दल को जनता का जबर्दस्त समर्थन मिल रहा है।

राज्य में अगले कुछ महीनों में चुनाव होने हैं। भाजपा नेता ने कहा, ‘‘ हम यहां फिर से सरकार बनाएंगे। हम लगातार चौथी बार राज्य में सरकार बनाएंगे और शिवराज सिंह चौहान फिर से मुख्यमंत्री बनेंगे।’’ उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में 29 लोकसभा सीटों में से 26 सीटें भाजपा के पास हैं और कांग्रेस के पास तीन हैं जिनसे ज्योतिरादित्य सिंधिया, कमल नाथ और कांतिलाल भूरिया सांसद हैं।

भाजपा नेता ने कहा कि इससे स्पष्ट है कि कांग्रेस के पास राज्य में कुछ नहीं बचा है। वह पहले ही अनेक धडों में बंटी हुई है। उनके पास कोई चेहरा (मुख्यमंत्री पद के लिए) नहीं है....उनके पास कोई चेहरा नहीं है, अर्थ नहीं हैं और आधार नहीं है। पार्टी का सफाया हो जाएगा।’’ झा ने कहा कि मुख्यमंत्री के प्रति समर्थन दिखाते हुए भाजपा की जन आशीर्वाद यात्रा के तहत आयोजित एक कार्यक्रम में 25,000 से अधिक लोगों ने भाग लिया, जिससे यह सबित होता है कि जनता हमारे साथ है।

मंत्रियों और विधायकों को टिकटों के बंटवारे के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि पार्टी इस पर कोई निर्णय लेगी और यह उम्मीदवार के जीतने की संभावनाओं पर निर्भर करेगा। उन्होंने कहा कि राज्य की 230 विधानसभा सीटों में भाजपा का लक्ष्य 200 सीटों का है और पार्टी का चुनावी नारा ‘‘अबकी बार 200 पार’’ है। 2013 के विधानसभा चुनावों में भगवा पार्टी ने 165 सीटें जीती थीं वहीं मुख्य प्रतिद्वंद्वी पार्टी कांग्रेस के हिस्से में 58 सीटें आईं थीं।

सिंधिया और नाथ को क्रमश: राज्य की प्रचार समिति का प्रमुख तथा राज्य इकाई का अध्यक्ष बनाए जाने के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘‘ कमलनाथ कॉरपोरेट सेक्टर के व्यक्ति हैं वहीं सिंधिया का ताल्लुक राजवंश से है....ये जननेता नहीं हैं। ये केवल छिंदवाड़ा और गुना सीटों तक ही सीमित हैं।’’ अनेक विधानसभा सीटों के लिए हुए उपचुनावों में सत्तारूढ़ दल की हार के बारे में पूछे जाने पर झा ने कहा चारों सीटों पर पहले ही कांग्रेस का कब्जा था वे केवल सीटें बचा पाए हैं और हम उनसे सीटें छीनने में चूक गए।’’

गुजरात पाटीदार आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल द्वारा राज्य की यात्रा कर मतदाताओं को जागरूक बनने की घोषणा के संबंध में पूछे जाने पर झा ने कहा की मध्यप्रदेश में उनकी कोई छवि नहीं है। पाटीदार मुख्यमंत्री चौहान और भाजपा के साथ हैं।

Khabar IndiaTv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी रीड करते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें khabarindiaTv का भारत सेक्‍शन
Web Title: मध्य प्रदेश में कांग्रेस के पास न तो कोई चेहरा है, न कोई आधार है: प्रभात झा
Promoted Content
Write a comment
atal-bihari-vajpayee
monsoon-climate-change