1. You Are At:
  2. होम
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. राजनीतिक दलों को EC की खुली चुनौती, ‘3 जून से EVM हैक करके दिखाएं’

राजनीतिक दलों को चुनाव आयोग की खुली चुनौती, ‘3 जून से EVM हैक करके दिखाएं’

चुनाव आयोग ने आज साफ कहा कि EVM मशीन को हैक नहीं किया जा सकता। चुनाव प्रक्रिया में सुधार करना सभी पक्षकारों की जिम्मेदारी है। साथ ही चुनाव आयोग ने 3 जून से EVM को हैक करने की चुनौती दी है।

Khabarindiatv.com [Updated:20 May 2017, 7:58 PM IST]
nasim zaidi- Khabar IndiaTV
nasim zaidi

नई दिल्ली: इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों में गड़बड़ी संभव है, इसे साबित करने के लिए चुनौती तीन जून से शुरू होगी। भारत निर्वाचन आयोग ने मशीन में किसी प्रकार की छेड़छाड़ की संभावना को खारिज करते हुए आज यह घोषणा की।

निर्वाचन आयोग ने एक सप्ताह पहले ही राजनीतिक दलों को चुनौती दी थी कि वे साबित करें कि हालिया विधानसभा चुनावों में प्रयुक्त ईवीएम में धांधली संभव है। संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए मुख्य निर्वाचन आयुक्त नसीम जैदी ने कहा, EVM चुनौती 3 जून से शुरू होगी।

उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने ईवीएम के भरोसे पर सवाल उठाया है उन्होंने अभी तक अपने दावों के समर्थन में पुख्ता साक्ष्य नहीं दिये हैं। जैदी ने कहा, ईवीएम के भीतर लगे इलेक्ट्रॉनिक सर्किट को बदलना संभव नहीं हैं। उन्होंने कहा, हमारे ईवीएम तकनीकी रूप से सुदृढ़ हैं और उनमें धांधली संभव नहीं।

जैदी ने आम आदमी पार्टी के दावों को खारिज किया कि ईवीएम में धांधली संभव है। उन्होंने कहा मशीन में कोई छेड़छाड़ संभव नहीं है। उन्होंने कहा कि चुनावी प्रक्रिया को बेहतर बनाना सभी पक्षों की जिम्मेदारी है और निर्वाचन आयोग इस संबंध में सभी जरूरी कदम उठा रहा है।

कई प्रमुख राजनीतिक दलों का दावा है कि ईवीएम से लोगों का विश्वास उठ गया है।

Promoted Content
auto-expo