Race 3 Review: जबरदस्त एक्शन के बावजूद सलमान खान ने किया बहुत निराश, रेमो डिसूजा ने खोया गोल्डन चांस

जब पता चला कि ‘रेस 3’ का निर्देशन अब्बास-मस्तान नहीं रेमो डिसूजा करने वाले हैं और फिल्म में सैफ अली खान नहीं सलमान खान होंगे उसी वक्त झटका लगा था। हम लोग रेस की सीरीज में सैफ को देखने के आदी थे और अब्बास-मस्तान को जो सस्पेंस क्रिएट करने में महारथ हासिल है उसका मुकाबला रेमो डिसूजा नहीं कर पाएंगे। उसके बाद फिल्म का ट्रेलर आया, जिसके डायलॉग्स और सीन्स को लेकर काफी ट्रोल किया गया। लेकिन किसी भी किताब को उसके कवर से जज नहीं करना चाहिए, इसी उम्मीद के साथ हम रेस 3 देखने गए और फिर शुरू हुआ टॉर्चर। salman khan race 3 movie, race 3 review, race 3 movie review, race 3 budget, race 3 trailer release date,race 3 release date, rating of race 3, bollywoood movie race 3, Race 3 reactions

Jyoti Jaiswal [Updated:15 Jun 2018, 4:46 PM IST]
रेस 3

रेस 3

  • फिल्म रिव्यू: रेस 3
  • स्टार रेटिंग: 2 / 5
  • पर्दे पर: 15 जून 2018
  • डायरेक्टर: रेमो डिसूजा
  • शैली: एक्शन

Race 3 Review: जब पता चला कि ‘रेस 3’ का निर्देशन अब्बास-मस्तान नहीं रेमो डिसूजा करने वाले हैं और फिल्म में सैफ अली खान नहीं सलमान खान होंगे उसी वक्त झटका लगा था। हम लोग रेस की सीरीज में सैफ को देखने के आदी थे और अब्बास-मस्तान को जो सस्पेंस क्रिएट करने में महारथ हासिल है उसका मुकाबला रेमो डिसूजा कर पाएंगे या नहीं इस पर हमें शक था। उसके बाद फिल्म का ट्रेलर आया, जिसके डायलॉग्स और सीन्स को लेकर काफी ट्रोल किया गया। लेकिन किसी भी किताब को उसके कवर से जज नहीं करना चाहिए, इसी उम्मीद के साथ हम रेस 3 देखने गए और फिर शुरू हुआ असली टॉर्चर।

सबसे पहले तो मैं आपको ये बता दूं, इसका बस नाम रेस 3 है। ये कहीं से भी रेस की पुरानी फिल्मों जैसी नहीं है, ना ही उसकी फ्रेंचाइजी लगती है।

कहानी- ओह! सलमान खान की फिल्म में कहानी भी है क्या? जवाब है- नहीं...। यह फिल्म हम साथ-साथ हैं का एक्शन वर्जन है लेकिन बहुत ही खराब। कुछ सस्पेंस हैं जिनके खुलने पर भी आप बहुत ज्यादा चकित नहीं होंगे। फिल्म का पहला हाफ बहुत खराब है, जो हमें टॉर्चर करता है, दूसरा हाफ थोड़ा कम खराब है, लेकिन वो उस टॉर्चर पर मरहम लगाने के लायक नही है।

एक्टिंग- छोड़ो सलमान खान की फिल्म है तो एक्टिंग की बात कौन करेगा?

म्यूजिक- फिल्म के गाने सुनकर लगता है किसी नर्सरी के बच्चे ने राइम मिला दी है, बार-बार स्क्रीन पर आते गाने आपको बहुत ज्यादा इरीटेट करने वाले हैं। सलमान खान ने ‘सेल्फिश’ गाना लिखा है, जब ये गाना रिलीज हुआ था तो लगा कि ये कैसा गाना है... लेकिन जब फिल्म के बाकी गाने आप सुनेंगे तो आपको सेल्फिश उनसे बेहतर लगेगा। फिल्म का गाना ‘हीरिए...’ और ‘अल्लाह दुहाई है…’ जो थोड़ा सुनने लायक है।

अच्छा क्या है?- फिल्म में एक ही चीज अच्छी है और वो है एक्शन। फिल्म में जबरदस्त एक्शन देखने को मिलेगा... लेकिन एक मिनट... वो सलमान खान का जो उड़ने वाला सीन है ना जब वो आता है तो बस दिल टूट जाता है।

सलमान खान

फिल्म में अनिल कपूर इलाहाबाद के हंडिया के रहने वाले दिखाए गए हैं, लेकिन पूरी फिल्म में हंडिया को हांडिया-हांडिया कहा गया है, जो बीइंग इलाहाबादी मुझे बहुत बुरा लगा। फिल्म में जबरदस्ती अवधी डायलॉग ठूंसे गए हैं, जिसकी ना तो जरूरत थी और ना ही कोई ढंग से बोल पा रहा था।

यह फिल्म किसी भी लिहाज से पैसे खर्च करने लायक नहीं है, यह सलमान की सबसे कमजोर फिल्मों में से एक है। रेमो डिसूजा को इस फिल्म के साथ गोल्डन चांस मिला था जिसे उन्होंने मिस कर दिया।

फिल्म के अंत में सलमान खान ने हिंट दिया है कि रेस 4 भी आएगी और उसके सिकंदर भी वही होंगे। सलमान से दोनों हाथ जोड़कर गुजारिश है यह रेस यहीं रोक दी जाए।

इस फिल्म को मैं 2 स्टार दे रही हूं। 

(इंग्लिश में रिव्यू पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें)

Promoted Content
monsoon-climate-change
Sanju