Live TV
  1. Home
  2. विदेश
  3. अमेरिका
  4. भारत-अमेरिकी संबंधों में मजबूती के लिए...

भारत-अमेरिकी संबंधों में मजबूती के लिए ओबामा ने मोदी का धन्यवाद किया

वाशिंगटन: अमेरिका के निवर्तमान राष्ट्रपति बराक ओबामा ने भारत एवं अमेरिका के बीच संबंधों को मजबूत बनाने वाली साझेदारी के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को फोन करके उन्हें धन्यवाद दिया। दोनों नेताओं के बीच फोन

India TV News Desk 19 Jan 2017, 11:16:11 IST
India TV News Desk

वाशिंगटन: अमेरिका के निवर्तमान राष्ट्रपति बराक ओबामा ने भारत एवं अमेरिका के बीच संबंधों को मजबूत बनाने वाली साझेदारी के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को फोन करके उन्हें धन्यवाद दिया। दोनों नेताओं के बीच फोन पर हुई बातचीत के एक ब्यौरे के अनुसार, ओबामा ने उनकी साझीदारी के लिए शुक्रिया अदा करने और रक्षा, असैन्य परमाणु उर्जा एवं लोगों के बीच आपसी संपर्क बढ़ाने समेत सहयोग के साझे प्रयासों की समीक्षा के मकसद से कल मोदी से फोन पर बात की।

व्हाइट हाउस ने कहा, ओबामा ने वर्ष 2015 में भारत के गणतंत्र दिवस समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल होने की याद ताजा की और प्रधानमंत्री को भारत के आगामी गणतंत्र दिवस की 68वीं वर्षगांठ से पहले बधाई दी। इसमें कहा गया है, दोनों नेताओं ने भारत को अमेरिका के एक बड़े रक्षा सहयोगी के तौर पर मान्यता देने और जलवायु परिवर्तन की वैश्विक चुनौती से निपटने समेत साझी आर्थिक एवं सुरक्षा प्राथमिकताओं पर हुई प्रगति पर चर्चा की।

मोदी के मई 2014 में चुनाव में जीत प्राप्त करने के बाद ओबामा उन्हें सबसे पहले बधाई देने वाले नेताओं में शामिल थे और उन्होंने उन्हें व्हाइट हाउस आने का तत्काल निमंत्रण दिया था। दोनों नेताओं ने सितंबर 2014 में व्हाइट हाउस में मुलाकात की थी। इसके बाद ने उन्होंने आठ बार मुलाकात की है जो एक रिकॉर्ड है। दक्षिण एवं मध्य एशिया मामलों के लिए सहायक विदेश मंत्री निशा देसाई बिस्वाल के अनुसार दोनों नेताओं के बीच गर्मजोशी भरे संबंध हैं।

निशा ने हाल में एक साक्षात्कार में कहा, उनके बीच काफी आपसी भाईचारा है। वे नेतृत्व, मूल्यों एवं दृष्टिकोण को लेकर एक दूसरे का बहुत सम्मान करते हैं। उन्होंने कहा, आपने राष्ट्रपति ओबामा को प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ करते देखा है। उन्होंने टाइम पत्रिका की प्रोफाइल में मोदी के बारे में बताते हुए उनकी प्रशंसा की है। आपने प्रधानमंत्री मोदी को राष्ट्रपति ओबामा के मूल्यों, उनकी नेतृत्व शैली की प्रशंसा करते देखा है। निशा ने कहा कि यह संबंध केवल उस दिन स्थापित नहीं हुआ जब राष्ट्रपति ने प्रधानमंत्री चुने जाने पर मोदी को बधाई दी थी। उन्होंने कहा, इस संबंध के बीज कई दशक पहले बोए गए थे।