Live TV
  1. Home
  2. विदेश
  3. एशिया
  4. नेपाल के प्रधानमंत्री ने अमेरिका का...

नेपाल के प्रधानमंत्री ने अमेरिका का दौरा रद्द किया

काठमांडू: नये संविधान को लेकर नेपाल में जारी राजनीतिक संकट के बीच प्रधानमंत्री सुशील कोइराला ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के सत्र में शामिल होने के अमेरिका के अपने दौरे की योजना आज रद्द कर दी।

Bhasha
Bhasha 23 Sep 2015, 18:43:46 IST

काठमांडू: नये संविधान को लेकर नेपाल में जारी राजनीतिक संकट के बीच प्रधानमंत्री सुशील कोइराला ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के सत्र में शामिल होने के अमेरिका के अपने दौरे की योजना आज रद्द कर दी। नये संविधान को लेकर भारत से लगे देश के इलाकों में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। कोइराला ने रविवार को मंजूर किए गए संविधान का विरोध कर रहे मधेसी और दूसरे क्षेत्रीय समूहों के साथ बातचीत करने के लिए अपना दौरा रद्द किया है। मधेसी नेपाल के तराई क्षेत्र की तलहटी में रहने वाले भारतीय मूल के लोग हैं। भारत ने तराई के जिलों में जारी हिंसा को लेकर दो दिन पहले चिंता जताते हुए नेपाल सरकार से बल के इस्तेमाल की बजाए बातचीत के शांतिपूर्ण तरीके के माध्यम से मुद्दे का राजनीतिक रूप से हल तलाशने को कहा था। अब उपप्रधानमंत्री और नेपाली कांग्रेस के महासचिव प्रकाश मान सिंह संयुक्त राष्ट्र में देश के प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करेंगे।


सिंह ने अमेरिका के लिए रवाना होने से पहले पीटीआई-भाषा से कहा, मुझे न्यूयार्क में नेपाली प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करना होगा क्योंकि प्रधानमंत्री कोइराला को आंदोलनकारी मधेसी पार्टियों के साथ देश में बातचीत का महत्वपूर्ण काम करना है। विदेश मंत्री महेंद्र बहादुर पांडे और विदेश मंत्रालय के दूसरे अधिकारी प्रतिनिधिमंडल में शामिल हैं। मधेसी पार्टियां संविधान सभा के माध्यम से मंजूर किए गए नये संविधान का विरोध कर रही हैं। देश को सात प्रांतों में बांटने के खिलाफ पिछले एक महीने से ज्यादा समय से मधेसी पार्टियां और थारू जातीय समूह दक्षिणी और पश्चिमी नेपाल में विरोध प्रदर्शन कर रही हैं जिनमें 40 से अधिक लोगों की मौत हुई हैं।


आंदोलनकारी समूह वंचित समुदायों के लिए अधिक अधिकारों एवं प्रतिनिधित्व और साथ ही वर्तमान नागरिकता नियमों में सुधारों की मांग कर रहे हैं। बढ़ती हिंसा को लेकर भारत में चिताएं उभरी हैं। भारत लगातार नेपाल के राजनीतिक नेतृत्व को इन क्षेत्रों में जारी तनाव को खत्म करने के लिए तत्काल उपाय करने को लेकर आगाह कर रहा था। भारतीय विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा था, हम अब भी उम्मीद है कि नेपाली नेतृत्व टकराव की वर्तमान स्थिति के मूल कारणों से प्रभावशाली एवं विश्वसनीय तरीके से निपटने के लिए पहल करेगा।

इसे भी पढ़ें: नेपाल का नया संविधान हो खुशी का अवसर, ना कि हिंसा का: भारत

Khabar IndiaTv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी रीड करते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें khabarindiaTv का विदेश सेक्‍शन
Web Title: नेपाल के प्रधानमंत्री ने अमेरिका का दौरा रद्द किया