Live TV
  1. Home
  2. खेल
  3. क्रिकेट
  4. BCCI अंतरिम अध्यक्ष पद को लेकर...

BCCI अंतरिम अध्यक्ष पद को लेकर बिछी बिसात

कोलकाता: जगमोहन डालमिया के निधन के साथ भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) में रिक्त हुए पद पर कब्जा जमाने को लेकर बिसात बिछ चुकी है और पेचीदा चालें चली जाने लगी हैं। बीसीसीआई अंतरिम अध्यक्ष

IANS
IANS 07 Oct 2015, 17:16:31 IST

कोलकाता: जगमोहन डालमिया के निधन के साथ भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) में रिक्त हुए पद पर कब्जा जमाने को लेकर बिसात बिछ चुकी है और पेचीदा चालें चली जाने लगी हैं। बीसीसीआई अंतरिम अध्यक्ष पद की दौड़ में राजीव शुक्ला, शरद पवार और अमिताभ चौधरी को संभावित उम्मीदवार के तौर पर देखा जा रहा है।

बीसीसीआई के संविधान के मुताबिक, अध्यक्ष का देहांत होने पर अंतरिम अध्यक्ष का चयन विशेष महासभा बुलाकर किया जा सकता है। इसके लिए बोर्ड सचिव (अनुराग ठाकुर) को अध्यक्ष का देहांत होने के 15 दिन के भीतर विशेष महासभा की तारीख की घोषणा करनो होगी और सभी संबद्ध राज्य संघों को तीन सप्ताह पहले नोटिस भेजकर सूचित करना होगा।

अध्यक्ष पद के प्रत्याशी के नामांकन की बारी अब पूर्वी जोन की छह इकाइयों की है तथा प्रत्याशी को दावेदारी पेश करने के लिए अपने नाम की संस्तुति करने वाला हासिल करना होगा।

अगर प्रत्याशी को नामांकित करने वाली इकाई मिल जाती है और शेष पांच इकाइयां उसका समर्थन करती हैं तो उसका चयन हो जाएगा।

मीडिया में आई रपटों में जहां कहा गया है कि मुंबई क्रिकेट संघ (एमसीए) के अध्यक्ष शरद पवार ने अध्यक्ष पद की दौड़ से खुद को बाहर कर लिया है, लेकिन उन्हें नजदीक से जानने वालों का मानना है कि शातिर पवार को इस रेस से बाहर नहीं माना जा सकता।

डालमिया के अंतिम संस्कार में पहुंचे पवार वहां से सीधे मुंबई चले गए थे, जहां उन्होंने बदली परिस्थितियों का जायजा लेना शुरू कर दिया। माना जा रहा है कि पवार अभी स्थिति को समझ रहे हैं और समय आने पर अपनी चाल चलेंगे।

हालांकि पवार को पूर्वी जोन की किसी इकाई का समर्थन मिलना मुश्किल ही है, क्योंकि सीएबी और नेशनल क्रिकेट क्लब उनकी धुर विरोधी हैं। वहीं ओडिशा क्रिकेट क्लब पूर्व अध्यक्ष एन. श्रीनिवासन के नजदीकी के नियंत्रण में है।

सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के कारण श्रीनिवासन सीधे-सीधे मैदान में तो नहीं उतर सकते, लेकिन अपने नजदीकी झारखंड क्रिकेट संघ के अध्यक्ष चौधरी को मैदान में वह जरूर उतार सकते हैं।

त्रिपुरा और असम के बोर्ड अब तक निष्पक्ष रहे हैं, लेकिन असम अपने अध्यक्ष और बीसीसीआई के उपाध्यक्ष गौतम रॉय को आने वाले दिनों में जरूर खड़ा कर सकता है।

आईपीएल के चेयरमैन राजीव शुक्ला शुरू से बीसीसीआई अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ना चाहते थे, लेकिन उन्हें उपाध्यक्ष पद से संतोष करना पड़ा।

ये भी पढ़ें:डालमिया के बाद कौन बनेगा BCCI बॉस...?

 

Khabar IndiaTv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी रीड करते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें khabarindiaTv का खेल सेक्‍शन
Web Title: BCCI अंतरिम अध्यक्ष पद को लेकर बिछी बिसात