Live TV
  1. Home
  2. पैसा
  3. मेरा पैसा
  4. SBI, PNB और ICICI Bank ने...

SBI, PNB और ICICI Bank ने होली से पहले दिया बड़ा झटका, 1 मार्च से महंगा हुआ होम और कार लोन

एसबीआई ने जहां मार्जिनल कॉस्‍ट लेंडिंग रेट (MCLR) में 0.25 फीसदी तक की बढ़ोतरी की है वहीं पीएनबी और ICICI Bank ने भी MCLR में 0.15 फीसदी तक की वृद्धि की है।

Written by: Manish Mishra 01 Mar 2018, 18:37:10 IST
Manish Mishra

नई दिल्ली। देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्‍टेट बैंक (SBI) और पंजाब नेशनल बैंक (PNB) ने होली से पहले ही अपने लोन लेने वाले ग्राहकों को बड़ा झटका दिया है। अगर आपने इन दोनों बैंकों से लोन लिया हुआ है तो अब ज्‍यादा ईएमआई भरने की तैयारी कर लीजिए। एसबीआई ने जहां मार्जिनल कॉस्‍ट लेंडिंग रेट (MCLR) में 0.25 फीसदी तक की बढ़ोतरी की है वहीं पंजाब नेशनल बैंक और ICICI Bank ने भी MCLR में 0.15 फीसदी तक की वृद्धि की है। 28 फरवरी को ही एसबीआई ने विभिन्‍न मैच्‍योरिटी अवधि वाले डिपॉजिट्स की जमा दरों में 0.25 फीसदी तक का इजाफा किया था।

MCLR में इस बढ़ोतरी का सबसे ज्यादा प्रभाव होम लोन और कार लोन या किसी भी तरह का लोन लेने वाले ग्राहकों पर पड़ेगा। एसबीआई, पीएनबी और ICICI Bank द्वारा MCLR में की गई बढ़ोतरी से तीनों ही बैंकों से होम लोन से लेकर कार लोन, बिजनेस लोन या कोई भी लोन जो MCLR से संबद्ध है, महंगा हो जाएगा।

बैंकों ने नई ब्याज दरें आज यानी 1 मार्च से लागू कर दी हैं। इस बढ़ोतरी का असर उन कस्टमर्स पर पड़ेगा, जिन्होंने फ्लोटिंग रेट पर किसी भी तरह का लोन लिया हुआ है। बैंक के इस फैसले से अब उनकी ईएमआई बढ़ जाएगी।

एक तरफ जहां फ्लोटिंग रेट पर लोन लेने वाले लोगों के ईएमआई का बोझ 1 मार्च से बढ़ेगा, वहीं उन लोन लेने वालों पर इसका कोई असर नहीं होगा, जिन्होंने बेस रेट पर लोन लिया हुआ है। मतलब ये कि बैंक द्वारा एमसीएलआर में बढ़ोतरी किए जाने के बावजूद बेस रेट पर लोन लेने वाले ग्राहकों की ईएमआई पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा।

PNB के MCLR में हुआ बदलाव

SBI के MCLR में हुए बदलाव