Live TV
  1. Home
  2. पैसा
  3. बाजार
  4. IPL नीलामी में खिलाड़ियों पर बरसे...

IPL नीलामी में खिलाड़ियों पर बरसे नोट, 629 करोड़ में बिके 187 खिलाड़ी

2 दिन चली नीलामी में 169 खिलाड़ियों को खरीदा गया, 18 खिलाड़ियों को टीमों ने अपने साथ बनाए रखा, यानि कुल 187 खिलाड़ियों पर 628.7 करोड़ रुपए का खर्च आया है

Reported by: Manoj Kumar 28 Jan 2018, 18:07:09 IST
Manoj Kumar

नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 11वें आयोजन से पहले हुई नीलामी में कई खिलाड़ियों पर नोट बरसे हैं। दो दिन चली नीलामी में 8 टीमों मे हिस्सा लिया और कुल 640 करोड़ रुपए का बजट था जिसमें से सभी टीमों ने मिलकर 628.7 करोड़ रुपए खर्च कर अपनी पसंद के खिलाड़ियों को खरीदा, नीलामी समाप्त होने पर सिर्फ 11.3 करोड़ रुपए ही टीमों के पास बच पाया।

126 खिलाड़ियों पर किसी ने नहीं लगाई बोली

नीलामी में ज्यादातर खिलाड़ियों को टीमों ने खरीद लिया लेकिन कुछ खिलाड़ी ऐसे भी रहे जिनके लिए कोई खरीदार नहीं मिल सका। 2 दिन चली नीलामी में 169 खिलाड़ियों को खरीदा गया, 18 खिलाड़ियों को टीमों ने अपने साथ बनाए रखा, यानि कुल 187 खिलाड़ियों पर 628.7 करोड़ रुपए का खर्च आया है। 126 खिलाड़ी ऐसे रहे जिनपर किसी ने बोली नहीं लगाई।

हर टीम को मिले थे 80 करोड़ रुपए

IPL नीलामी में 8 टीमों ने हिस्सा लिया और हर टीम को खर्च करने के लिए 80 करोड़ रुपए का बजट था, जिन टीमों ने अपने पुराने खिलाड़ियों को अपने साथ रखा उनका बजट और भी कम हो गया। चेन्नई सुपर किंग, मुंबई इंडियन्स और दिल्ली डेयरडेविल्स ने अपने 3-3 खिलाड़ियों को अपनी टीम में बनाए रखा जिसके बाद इन तीनों टीमों का बजट घटकर 47-47 करोड़ रुपए रह गया था। इसके अलावा आरसीबी की टीम ने भी अपने 3 खिलाड़ियों को अपने साथ रखा और उसका भी बजट घटकर 49 करोड़ रुपए रहा। कोलकाता नाइट राइडर्स और सनराइजर्स हैदराबाद ने अपने 2-2 खिलाड़ियों को अपने साथ रखा और इन दोनो टीमों का बजट 59-59 करोड़ रुपए बचा था जबकि किंग्ल इलेवन पंजाब और राजस्थान रायल्स ने अपने 1-1 खिलाड़ी को अपने साथ रखा जिसके बाद इनका बजट 67.5 करोड़ रुपए था।

नीलामी के बाद किस टीम के पास बचा कितना पैसा?

नीलामी खत्म होने के बाद कोलकाता नाइट राइडर्स ऐसी टीम रही जो अपने सारे पैसे खर्च कर चुकी थी जबकि किंग्स इलेवन पंजाब के पास 10 लाख रुपए और रॉयल चैलेंजर्स के पास 15 लाख बचे। इसके अलावा मुंबई और हैदराबाद की टीम के पास 65-65 लाख तथा दिल्ली और राजस्थान की टीम के पास 1.65-1.65 करोड़ रुपए बचे। चेन्नई की टीम ऐसी रही जो इस नीलामी में सबसे ज्यादा 6.5 करोड़ रुपए बचाने में कामयाब रही।