Live TV
  1. Home
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. भारत-22 ईटीएफ का दूसरा निर्गम खुदरा...

भारत-22 ईटीएफ का दूसरा निर्गम खुदरा निवेशकों के लिए खुलेगा 20 जून से, सरकार जुटाएगी 8400 करोड़ रुपए

वित्त मंत्रालय भारत-22 ईटीएफ (एक्सचेंज ट्रेडेड फंड) की दूसरी खेप 19 जून से पेश करेगी। यह सरकार को बाजारों से 8,400 करोड़ रुपए की पूंजी जुटाने में मदद करेगी।

Edited by: India TV Paisa 14 Jun 2018, 15:38:15 IST
India TV Paisa

नई दिल्ली। वित्त मंत्रालय भारत-22 ईटीएफ (एक्सचेंज ट्रेडेड फंड) की दूसरी खेप 19 जून से पेश करेगी। यह सरकार को बाजारों से 8,400 करोड़ रुपए की पूंजी जुटाने में मदद करेगी। एंकर निवेशकों के लिए यह पेशकश 19 जून से प्रारंभ होगी और अन्य संस्थागत और खुदरा निवेशकों के लिए अगले दिन से खुलेगी। यह पेशकश 22 जून तक खुली रहेगी। 

इसमें निवेशकों को निर्गम मूल्य पर 2.5 प्रतिशत की छूट मिलेगी। वित्त मंत्रालय ने बयान में कहा कि सरकार 19 जून से शुरू हो रही भारत-22 ईटीएफ की पेशकश के जरिये 6,000 करोड़ रुपए जुटाने का लक्ष्य बना रही है। इसके अलावा अतिरिक्त ईटीएफ की पेशकश कर 2,400 करोड़ रुपए और जुटाने की योजना है। 

यह पेशकश कोल इंडिया जैसे सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों में न्यूनतम सार्वजनिक हिस्सेदारी मानदंड को पूरा करने में सरकार की मदद भी करेगा। पिछले वर्ष नवबंर में सरकार ने भारत-22 ईटीएफ की पेशकश की थी। इसमें सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम, सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों, आईटीसी, एक्सिस बैंक और एलएंडटी जैसी 22 कंपनियों के शेयर शामिल थे। 

इस ईटीएफ के लिए करीब 32,000 करोड़ रुपए की बोलियां आईं थी, हालांकि सरकार ने केवल 14,500 करोड़ रुपए ही जुटाये थे। नए भारत-22 ईटीएफ में ओएनजीसी, आईओसी, एसबीआई, बीपीसीएल, कोल इंडिया और नाल्को समेत अन्य सरकारी कंपनियां या सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम शामिल हैं। सरकार की चालू वित्त वर्ष में विनिवेश के जरिये 80,000 करोड़ रुपए जुटाने की योजना है, जो पिछले वित्त वर्ष के 1 लाख करोड़ रुपए के लक्ष्य से कम है।