Live TV
  1. Home
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. नोटबंदी के बाद छापे गए नए...

नोटबंदी के बाद छापे गए नए नोटों की जानकारी देने से RBI ने किया इनकार, RTI से हुआ खुलासा

ऐसा लगता है कि नोटबंदी के बाद या तो भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) यह नहीं जानता कि वह कितने नोटों की छपाई कर रहा था या फिर इस बात की जानकारी नहीं देना चाहता।

Manish Mishra
Manish Mishra 12 Jan 2017, 12:28:06 IST

नई दिल्‍ली। ऐसा लगता है कि नोटबंदी के बाद या तो भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) यह नहीं जानता कि वह कितने नोट छाप रहा था या फिर इस बात की जानकारी नहीं देना चाहता। द हफिंगटन पोस्‍ट की एक रिपोर्ट के अनुसार, मुंबई के सूचना के अधिकार (RTI) कार्यकर्ता अनिल गलगली ने इस संदर्भ में RTI के जरिए RBI से जानकारी मांगी थी।

यह भी पढ़ें : नोटबंदी के बारे में किन अधिकारियों से ली गई सलाह, इस बारे में सूचना नहीं : PMO

तस्‍वीरों के जरिए समझिए क्‍या होता है ATM पर लिखे नंबरों का मतलब 

ATM card number

IndiaTV Paisa

IndiaTV Paisa

IndiaTV Paisa

IndiaTV Paisa

RBI ने यह दिया जवाब

  • गलगली ने RTI  के जरिए 9 नवंबर से 19 नवंबर के बीच करेंसी प्रिंटिंग की विस्‍तृत जानकारी मांगी थी।
  • इसके जवाब में RBI  ने कहा, ‘जो जानकारी आपने मांगी है वह हमारे पास उपलब्‍ध नहीं है।’
  • RBI ने RTI एक्‍ट, 2005 की धारा 8(1)(जी) का भी उल्‍लेख किया।
  • इस धारा के अनुसार, अगर किसी व्‍यक्ति की जिंदगी या सुरक्षा खतरे में होती है तो इसके आधार पर जानकारी देने से इनकार किया जा सकता है।
  • अपने जवाब में RBI  ने यह भी कहा कि नोटों की प्रिंटिंग BRBNMPL बेंगलुरु और SPMCL नई दिल्‍ली में हुई है और ये सवाल उन्‍हें भेज दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें : नोटबंदी पर RBI का जवाब संतोषजनक नहीं रहने पर प्रधानमंत्री को बुला सकती है लोकलेखा समिति

NDMA के पूर्व उपाध्‍यक्ष ने कहा, RBI नहीं देना चाहता जानकारी

  • गलगली ने 9 नवंबर 2016 से 19 नवंबर 2016 के बीच छपे 10, 20, 50, 100, 500 और 2000 रुपए के नोटों की प्रिंटिंग के बारे में जानकारी मांगी थी।
  • RBI द्वारा दिए जवाब से राष्‍ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (NDMA) के पूर्व उपाध्‍यक्ष एमएस रेड्डी ने चुनाव आयोग से कहा है कि वह RBI  से सूचनाएं देने को कहे।
  • रेड्डी ने कहा कि स्‍पष्‍ट तौर पर RBI जानकारी देने से बच रहा है।
  • उन्‍होंने यह सवाल भी उठाया कि कहीं ज्‍यादा नोटों की प्रिंटिंग कर चुनाव वाले राज्‍यों में तो सरकार नोट नहीं भेज रही।
Web Title: नोटबंदी के बाद छापे गए नोटों की जानकारी देने से RBI ने किया इनकार