Live TV
  1. Home
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. भ्रष्‍टाचार और कालेधन को खत्‍म करने...

भ्रष्‍टाचार और कालेधन को खत्‍म करने का मोदी ने दिया आज नया फॉर्मूला, डिजिटल लेनदेन को बताया कारगर हथियार

नरेन्द्र मोदी ने आज देश से भ्रष्‍टाचार और कालेधन को समाप्‍त करने का नया फॉर्मूला दिया। उन्‍होंने कहा कि डिजिटल लेनदेन से खुद जुड़ें और 100 नए परिवारों को इससे जोड़ें तो यह लड़ाई आसानी से जीती जा सकती है।

Edited by: Abhishek Shrivastava 28 Jan 2018, 15:28:49 IST
Abhishek Shrivastava

नई दिल्‍ली।  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज देश से भ्रष्‍टाचार और कालेधन को समाप्‍त करने का नया फॉर्मूला दिया। उन्‍होंने कहा कि डिजिटल लेनदेन से खुद जुड़ें और 100 नए परिवारों को इससे जोड़ें तो यह लड़ाई आसानी से जीती जा सकती है। मोदी ने जोर देकर कहा कहा कि भ्रष्टाचार एवं कालेधन के खिलाफ लड़ाई भारत के युवाओं के भविष्य की लड़ाई है और यह लड़ाई रुकेगी नहीं, भ्रष्टाचार में लिप्त कोई भी व्यक्ति अब बच नहीं पाएगा।  

एनसीसी के एक समारोह को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि एक समय था जब भ्रष्टाचार की चर्चा होती थी और लोग मानते थे कि बड़े-बड़े लोगों का कुछ नहीं होता है। लेकिन अब चीजें बदल गई हैं । आज भ्रष्टाचार के कारण तीन पूर्व मुख्यमंत्री जेल में हैं । उन्होंने कहा कि आज देश का नौजवान भ्रष्टाचार को बर्दाश्त करने को तैयार नहीं है । भ्रष्टाचार के प्रति नफरत का भाव समाज में पैदा हो गया है।

मोदी ने कहा कि लेकिन सिर्फ भ्रष्टाचार से नफरत करने, रोष प्रकट करने से काम नहीं चलेगा। फिर तो लड़ाई लंबी चलानी पड़ेगी। प्रधानमंत्री ने कहा कि यह लड़ाई रुकने वाली नहीं है। भ्रष्टाचार और काले धन के खिलाफ लड़ाई देश के नौजवानों के भविष्य के लिए है। भ्रष्टाचार और काले धन के खिलाफ लड़ाई नहीं रुकेगी।

उन्होंने कहा कि वह देश के नौजवानों, एनसीसी कैडेटों से कुछ मांगना चाहते हैं और उन्हें उम्मीद है कि वे उन्हें निराश नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि वह न तो वोट मांग रहे हैं और न ही राजनीतिक मंच से कुछ कह रहे हैं। मैं आपसे भारत को भ्रष्टाचार रूपी दीमक से मुक्ति दिलाने की अपील कर रहा हूं। मोदी ने कहा कि वह अपील कर रहे हैं कि जवाबदेही और पारदर्शिता से जुड़ी डिजिटल लेनदेन की पहल से 100 नए परिवारों को जोड़ें।

प्रधानमंत्री ने एनसीसी कैडेटों समेत युवाओं से अपने मोबाइल पर भीम एप डाउनलोड करने और डिजिटल लेनदेन करने की अपील की। उन्होंने इस संबंध में पादर्शिता लाने में आधार की भूमिका का भी जिक्र किया।