Live TV
  1. Home
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. पेट्रोल और डीजल की कीमतों में...

पेट्रोल और डीजल की कीमतों में 3 हफ्ते बाद बढ़ोतरी, कर्नाटक चुनाव के बाद फिर बढ़े दाम

लगातार 3 हफ्ते तक भाव में किसी तरह बदलाव नहीं होने के बाद आज सोमवार को तेल कंपनियों ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में फिर से बढ़ोतरी की है। शनिवार को ही कर्नाटक में मतदान खत्म हुआ है और मंगलवार को चुनाव नतीजे आएंगे। इंडिया टीवी की टीम ने मतदान के बाद दाम बढ़ोतरी को लेकर शनिवार को ही आगाह कर दिया था

Manoj Kumar
Reported by: Manoj Kumar 14 May 2018, 8:40:50 IST

नई दिल्ली। पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी को लेकर जैसी आशंका जताई जा रही थी वही हुआ है, कर्नाटक में मतदान के बाद तेल कंपनियों ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी करना शुरू कर दिया है। लगातार 3 हफ्ते तक भाव में किसी तरह बदलाव नहीं होने के बाद आज सोमवार को तेल कंपनियों ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में फिर से बढ़ोतरी की है। शनिवार को ही कर्नाटक में मतदान खत्म हुआ है और मंगलवार को चुनाव नतीजे आएंगे। इंडिया टीवी की टीम ने मतदान के बाद दाम बढ़ोतरी को लेकर शनिवार को ही आगाह कर दिया था।

अब ये है पेट्रोल का दाम

इंडियन ऑयल की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के मुताबिक सोमवार को दिल्ली और मुंबई में पेट्रोल की कीमतों में 17 पैसे तथा कोलकाता और चेन्नई में 18 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई है। इस बढ़ोतरी के बाद आज सोमवार को दिल्ली में पेट्रोल का दाम 74.80 रुपए, कोलकाता में 77.50 रुपए, मुंबई में 82.65 रुपए और चेन्नई में 77.61 रुपए प्रति लीटर हो गया है।

दिल्ली में डीजल 66 रुपए के पार

डीजल की बात करें दिल्ली में इसकी कीमतों में 21 पैसे, कोलकाता में 5 पैसे तथा मुंबई और चेन्नई में 23 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई है। बढ़ोतरी के बाद अब दिल्ली में डीजल का दाम 66.14 रुपए हो गया है, दिल्ली में डीजल पहली बार 66 रुपए के ऊपर बिक रहा है। अन्य शहरों की बात करें तो सोमवार को कोलकाता में डीजल का भाव 68.68 रुपए, मुंबई में 70.43 रुपए और चेन्नई में 69.79 रुपए प्रति लीटर हो गया है।

कर्नाटक में मतदान खत्म होते ही बढ़ोतरी

ऐसा माना जा रहा है कि कर्नाटक में विधानसभा चुनावों को देखते हुए सरकार ने ऑयल मार्केटिंग कंपनियों को निर्देश दिया था कि वह मतदान होने तक दामों में बढ़ोतरी नहीं करेंगी, तेल कंपनियों ने भी सरकार के निर्देश को मानते हुए लगातार 3 हफ्ते तक कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया। लेकिन अब कर्नाटक में मतदान हो चुका है और अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में हो रही लगातार बढ़ोतरी की वजह से अब तेल कंपनियों को एक बार फिर से कच्चे तेल की कीमतों में बढ़ोतरी के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। पिछले हफ्ते अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल (ब्रेंट क्रूड) की कीमतों ने 77.97 डॉलर प्रति बैरल का ऊपरी स्तर छुआ है जो नवंबर 2014 के बाद सबसे ऊपरी स्तर है।