Live TV
  1. Home
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. Petrol-Diesel: 5 हफ्ते बाद फिर बढ़...

Petrol-Diesel: 5 हफ्ते बाद फिर बढ़ गए दाम, जानिए अब कितनी चुकानी पड़ेगी कीमत

Petrol-Diesel: लगभग 5 हफ्ते तक पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कटौती या स्थिरता के बाद तेल कंपनियों ने गुरुवार को फिर से दाम बढ़ा दिए हैं। 29 मई के बाद तेल कंपनियां या तो लगातार दाम घटा रही थीं या फिर भाव स्थिर बने हुए थे लेकिन अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में फिर से आई तेजी और घरेलू स्तर पर डॉलर के मुकाबले रुपए में आए दबाव की वजह से गुरुवरा को तेल कंपनियों ने फिर से दाम बढ़ाने का फैसला किया है।

Manoj Kumar
Reported by: Manoj Kumar 05 Jul 2018, 8:40:19 IST

नई दिल्ली। लगभग 5 हफ्ते तक पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कटौती या स्थिरता के बाद तेल कंपनियों ने गुरुवार को फिर से दाम बढ़ा दिए हैं। 29 मई के बाद तेल कंपनियां या तो लगातार दाम घटा रही थीं या फिर भाव स्थिर बने हुए थे लेकिन अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में फिर से आई तेजी और घरेलू स्तर पर डॉलर के मुकाबले रुपए में आए दबाव की वजह से गुरुवरा को तेल कंपनियों ने फिर से दाम बढ़ाने का फैसला किया है।

गुरुवार को दिल्ली, कोलकाता और मुंबई में पेट्रोल 16 पैसे तथा चेन्नई में 17 पैसे महंगा हो गया है जबकि डीजल दिल्ली, कोलकाता और चेन्नई में 12 पैसे और मुंबई में 13 पैसे महंगा हो गया है। इस बढ़ोतरी के बाद अब दिल्ली में पेट्रोल का दाम 75.71 रुपए, कोलकाता में 78.39 रुपए, मुंबई में 83.10 रुपए और चेन्नई में 78.57 रुपए प्रति लीटर हो गया है। डीजल की बात करें तो गुरुवार को दिल्ली में इसका दाम 67.50 रुपए, कोलकाता में 70.05 रुपए, मुंबई में 71.62 रुपए और चेन्नई में 71.24 रुपए प्रति लीटर कर दिया गया है।

इस हफ्ते अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल का भाव करीब 43 हफ्ते के ऊपरी स्तर तक गया है, अमेरिकी कच्चे तेल ने 75 डॉलर प्रति बैरल के स्तर को पार किया है जो नवंबर 2014 के बाद सबसे ऊपरी स्तर है, ब्रेंट क्रूड का दाम भी इस हफ्ते 80 डॉलर प्रति बैरल के करीब पहुंचा है, फिलहाल अंतरराष्ट्रीय बाजार में ब्रेंट क्रूड का भाव 78 डॉलर प्रति बैरल के करीब और अमेरिकी कच्चे तेल का दाम 74 डॉलर प्रति बैरल के करीब है।

कच्चे तेल का भाव बढ़ने के साथ घरेलू स्तर पर डॉलर के मुकाबले रुपये भी कमजोर डॉलर का भाव 68 रुपए के ऊपर बना हुआ है, बुधवार को डॉलर के मुकाबले रुपए 16 पैसे कमजोर होकर 68.75 पर बंद हुआ है, महंगे क्रूड और महंगे डॉलर की वजह से तेल कंपनियों की कच्चा तेल आयात करने के लिए लागत बढ़ी है और इस लागत को ग्राहकों से वसूलने के लिए कंपनियों ने पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ाना शुरू कर दिए हैं।

Web Title: Petrol-Diesel: 5 हफ्ते बाद फिर बढ़ गए दाम, जानिए अब कितनी चुकानी पड़ेगी कीमत