Live TV
  1. Home
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. Q4 Results: IOC का शुद्ध लाभ...

Q4 Results: IOC का शुद्ध लाभ 40% बढ़कर हुआ 5218 करोड़ रुपए, डॉ रेड्डीज लैब का मुनाफा 3 प्रतिशत गिरा

इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) का शुद्ध लाभ मार्च में समाप्त बीते वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में 40 प्रतिशत बढ़कर 5,218 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में कंपनी ने 3,720.62 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ कमाया था।

Edited by: India TV Paisa 22 May 2018, 18:35:38 IST
India TV Paisa

नई दिल्‍ली। इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) का शुद्ध लाभ मार्च में समाप्त बीते वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में 40 प्रतिशत बढ़कर 5,218 करोड़ रुपए पर पहुंच गया। इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में कंपनी ने 3,720.62 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ कमाया था। 

तिमाही के दौरान आईओसी का कारोबार बढ़कर 1.36 लाख करोड़ रुपए पर पहुंच गया, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 1.24 लाख करोड़ रुपए था।  चौथी तिमाही में कंपनी ने 2.08 करोड़ टन पेट्रोलियम उत्पादों की बिक्री की, जो एक साल पहले समान अवधि में 1.96 करोड़ टन थी। तिमाही के दौरान कंपनी का निर्यात बढ़कर 17.6 लाख टन हो गया, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 14.6 लाख टन था। 

कंपनी के निदेशक मंडल ने वित्त वर्ष 2017-18 के लिए दो रुपए प्रति शेयर (चुकता इक्विटी शेयर पूंजी का 20 प्रतिशत) के अंतिम लाभांश की सिफारिश की है। इससे पहले कंपनी ने 19 रुपए प्रति शेयर का अंतरिम लाभांश दिया था। 

बॉश का एकल शुद्ध मुनाफा गिरा  

वाहन कलपुर्जा निर्माता कंपनी बॉश का एकल शुद्ध लाभ 31 मार्च 2018 को समाप्त तिमाही में 1.51 प्रतिशत गिरकर 433.78 करोड़ रुपए रह गया। 2016-17 की चौथी तिमाही में मुनाफा 440.47 करोड़ रुपए था। आलोच्य तिमाही के दौरान परिचालन से एकल आय बढ़कर 3,158.03 करोड़ रुपए हो गई, जो कि इससे पिछले वर्ष की इसी तिमाही में 2,780.2 करोड़ रुपए थी। 

कंपनी ने कहा कि एक जुलाई से जीएसटी लागू होने से चौथी तिमाही में परिचालन से आय की तुलना पिछले वर्ष की इसी तिमाही के आंकड़े से नहीं की जा सकती।  2017-18 में इसका एकीकृत शुद्ध लाभ 1,370.72 करोड़ रुपए रहा, जो कि 2016-17 में 1,741.12 करोड़ रुपए था।

डॉ रेड्डीज लैब का मुनाफा 3 प्रतिशत गिरा 

डॉ रेड्डीज लेबोरेटरीज का एकीकृत शुद्ध मुनाफा 2017-18 की चौथी तिमाही में 3.29 प्रतिशत गिरकर 302.2 करोड़ रुपए रह गया। इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में लाभ 312.5 करोड़ रुपए था। आलोच्य तिमाही में उसकी परिचालन से आय 3,534.9 करोड़ रुपए रही। पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में परिचालन आय 3,554.2 करोड़ रुपए थी। 

पूरे वित्त वर्ष में कंपनी का शुद्ध लाभ गिरकर 980.6 करोड़ रुपए रहा, जो कि 2016-17 में 1,203.9 करोड़ रुपए था। वहीं, कंपनी की परिचालन से आय 14,080.9 करोड़ रुपए से बढ़कर 14,202.8 करोड़ रुपए हो गई। निदेशक मंडल ने वित्त वर्ष 2017-18 के लिए 5 रुपए कीमत के शेयर पर 20 रुपए प्रति शेयर के हिसाब से अंतरिम लाभांश देने की सिफारिश की है।

भारत फोर्ज का मुनाफा 52 प्रतिशत लुढ़का 

वाहन कलपुर्जा निर्माता कंपनी भारत फोर्ज का एकल शुद्ध लाभ चौथी तिमाही में 51.65 प्रतिशत गिरकर 100.33 करोड़ रुपए रह गया। 2016-17 की इसी तिमाही में उसका लाभ 207.5 करोड़ रुपए था। मुख्य कारोबार के अलावा अन्य कामों में निवेश के मद में किए प्रावधान की वजह से उसे घाटा हुआ है। 

भारत फोर्ज ने बताया कि आलोच्य तिमाही के दौरान उसकी परिचालन से आय 1,466.61 करोड़ रुपए रही, जो कि एक वर्ष पहले की इसी तिमाही में 1,183.18 करोड़ रुपए थी। कंपनी ने कहा कि जीएसटी लागू होने से 31 मार्च 2018 को समाप्त तिमाही और पूरे वित्त वर्ष में परिचालन से आय की तुलना इससे पिछले वर्ष की अवधियों से नहीं की जा सकती है।