Live TV
  1. Home
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. गांवों में 'आधार पे' के जरिए...

गांवों में 'आधार पे' के जरिए डिजिटल लेन-देन को प्रोत्‍साहित कर रही सरकार, फिंगरप्रिंट के जरिए होगा पेमेंट

डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने गांवों में आधार पे का प्रचार शुरू कर दिया है। आधार पे के तहत सिर्फ फिंगरप्रिंट के जरिए ट्रांजैक्‍शन हो सकता है।

Manish Mishra
Manish Mishra 23 Jan 2017, 16:36:39 IST

नई दिल्‍ली। डिजिटल लेन-देन को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने गांवों में आधार पे का प्रचार-प्रसार शुरू कर दिया है। आधार पे के तहत सिर्फ फिंगरप्रिंट के जरिए ट्रांजैक्‍शन किया जा सकता है। वास्‍तव में आधार पे पहले से चल रहे आधार इनेबल्‍ड पेमेंट सिस्‍टम (AEPS) का मर्चेंट वर्जन है।

यह भी पढ़ें : तीन साल में बेकार हो जाएंगे सभी ATM, डिजिटल बैंकिंग का होगा बोलबाला : अमिताभ कांत

ऐसे होगा आधार पे से पेमेंट

  • ऑनलाइन और डेबिट-क्रेडिट कार्ड ट्रांजैक्‍शन में जहां पासवर्ड और पिन की जरूरत होती है वहीं आधार पे के इस्‍तेमाल को काफी सरल बनाने की कोशिश की जा रही है।
  • किसी भी पेमेंट के लिए ग्राहक को अपना आधार नंबर, बैंक का नाम (जिससे पैसे का भुगतान करनाहै) और फिंगरप्रिंट देना होगा।
  • UIDAI के सीईओ एबी पाण्डेय ने बताया कि आधार पे सभी ऐंड्रॉयड फोन पर चलता है। इसके साथ बस फिंगर बायोमेट्रिक डिवाइस जोड़ना होगा।
  • आधार पे के जरिए भुगतान लेने वाले दुकानदारों को 2,000 रुपए की बायोमेट्रिक डिवाइस लेनी पड़ेगी।
  • सरकार ऐसे मॉडल पर विचार कर रही है जिसके अंतर्गत मर्चेंट्स से धीरे-धीरे डिवाइस की कीमत वसूली जाए।
  • सरकार का मानना है कि मर्चेंट्स तभी इसके इस्तेमाल के लिए प्रोत्साहित होंगे।

UIDAI के सीईओ ने कहा

आधार पे के जरिए बिना कार्ड और पिन के कैशलेस पेमेंट किया जा सकता है। ग्राहकों के पास स्मार्टफोन होना जरूरी नहीं है।

तस्‍वीरों के जरिए समझिए ATM कार्ड पर लिखे नंबरों के मतलब

ATM card number

IndiaTV Paisa

IndiaTV Paisa

IndiaTV Paisa

IndiaTV Paisa

ऐसे बनाया जाएगा आधार पे को लोकप्रिय

  • आधार पे को दुकानदारों और ग्राहकों के बीच लोकप्रिय करने के लिए सरकार ने बैंकों से हर ब्रांच में 30-40 व्यापारियों को जोड़ने को कहा है जिससे कैशलेस पेमेंट्स की जा सकें।
  • फिलहाल पांच बैंक- आंध्रा बैंक, IDFC बैंक, सिंडीकेट, SBI और इंडसइंड बैंक आधार पे से जुड़ गए हैं।
  • उम्‍मीद की जा रही है कि कई और बैंक जल्‍द ही आधार पे से जुड़ेंगे।

यह भी पढ़ें : रोजगार, लघु उद्यम, ग्रामीण मांग पर नोटबंदी का होगा नकारात्मक असर : एसोचैम

सुरक्षित भी होगा आधार पे

  • ऐप के सुरक्षा फीचर्स को समझाते हुए UIDAI के सीईओ ने कहा कि फिंगरप्रिंट को कॉपी नहीं किया जा सकता।
  • अगर कोई मर्चेंट या कस्टमर फिंगरप्रिंट्स का मिसयूज करने की कोशिश करता है तो वह तुरंत पकड़ा जा सकेगा क्योंकि ऐप के जरिए ट्रांजैक्शन्स की लोकेशन के बारे में बैंक को जानकारी होगी।
Web Title: गांवों में 'आधार पे' से डिजिटल लेन-देन को प्रोत्‍साहित कर रही सरकार