Live TV
  1. Home
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. पूर्वोत्तर में ‘लाल’ को साफ करके...

पूर्वोत्तर में ‘लाल’ को साफ करके ‘भगवा’ बढ़ा आगे, शेयर बाजार में बढ़ सकती है ‘हरियाली’

त्रिपुरा, मेघालय और नागालैंड के चुनाव नतीजों का असर शेयर बाजार पर दिख सकता है, ऑटो कंपनियों की सेल में बढ़ोतरी और GDP में सुधार से बाजार को पहले ही सहारा है

Manish Kumar
Reported by: Manish Kumar 03 Mar 2018, 16:50:32 IST

नई दिल्ली। देश में पूर्वोत्तर के तीन राज्यों, यानि त्रिपुरा, मेघालय और नागालैंड में विधानसभा चुनावों के नतीजे सोमवार को शेयर बाजार की चाल को प्रभावित कर सकते हैं। तीनों राज्यों के अबतक के रुझान और नतीजों से साफ हो गया है कि केंद्र की सत्ता पर काबिज भारतीय जनता पार्टी का दबदबा बढ़ रहा है, त्रिपुरा में पहली बार भारतीय जनता पार्टी सरकार बनाने जा रही है, नागालैंड में भी भारतीय जनता पार्टी ने अपना अबतक का सबसे बेहतर प्रदर्शन किया है और मेघालय में भी उनकी परफॉर्मेंस अच्छी रही है।

शेयर बाजार को मिल सकता है सहारा

भारतीय जनता पार्टी की इस जीत से केंद्र सरकार की नीतियों पर भरोसा बढ़ेगा और इससे शेयर बाजार को भी सहारा मिल सकता है। बाजार के जानकार मान रहे हैं कि सोमवार को शेयर बाजार अच्छी बढ़त के साथ शुरुआत कर सकते हैं। इस हफ्ते दिसंबर तिमाही के GDP आंकड़े भी जारी हुए हैं जो देश में ग्रोथ की बढ़ती रफ्तार की तरफ इशारा कर रहे हैं, इसके अलावा इस हफ्ते ऑटो कंपनियों ने फरवरी महीने के लिए शानदार बिक्री आंकड़े जारी किए हैं। इन तमाम पहलुओं के आधार पर कहा जा रहा है कि शेयर बाजार मजबूती के साथ शुरुआत कर सकता है। इस हफ्ते बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सेंसेक्स 34046.94 और निफ्टी 10458.35 के स्तर पर बंद हुआ है।

3 राज्यों मे ऐसे नतीजे

चुनाव नतीजों की बात करें तो शाम 5 बजे तक त्रिपुरा की सभी 59 सीटों के नतीजे आ चुके है जिसमें से भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार 43 सीटों पर जीते हैं और सत्ता से बाहर होने वाले लेफ्ट के उम्मीदवार सिर्फ 16 सीटों पर जीत पाए हैं, त्रिपुरा को लेफ्ट पार्टियों का गढ़ समझा जाता है और 25 साल से यहां लेफ्ट की ही सरकार रही है। नागालैंड में भी सभी 60 सीटों के नतीजे आ चुके हैं और 31 सीटों पर भारतीय जनता पार्टी गठबंधन के उम्मीदवारों की जीत हुई है जबकि 28 सीटों पर एनपीएफ के उम्मीदवार जीते हैं, 5 सीटों पर अन्य दलों के उम्मीदवार आगे हैं लेकिन कांग्रेस को यहां कोई सीट नहीं मिली है। मेघालय की 59 सीटों में से कांग्रेस के उम्मीदवार 21 सीटों पर जीते हैं जबकि एनपीपी 19, भारतीय जनता पार्टी के 2 और अन्य दलों के उम्मीदवार 17 सीटों पर जीते हैं।

Web Title: पूर्वोत्तर में ‘लाल’ को साफ करके ‘भगवा’ बढ़ा आगे, शेयर बाजार में बढ़ सकती है ‘हरियाली’