Live TV
  1. Home
  2. भारत
  3. राष्ट्रीय
  4. कोयला घोटाला : पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन...

कोयला घोटाला : पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन को सम्मन भेजने की मांग

नई दिल्ली: पूर्व केंद्रीय कोयला राज्यमंत्री दासारि नारायण राव ने यहां सोमवार को एक अदालत में कहा कि जिंदल समूह को कोयला ब्लॉक आवंटन तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के कहने पर किया गया था। इस

IANS
IANS 21 Sep 2015, 21:57:09 IST

नई दिल्ली: पूर्व केंद्रीय कोयला राज्यमंत्री दासारि नारायण राव ने यहां सोमवार को एक अदालत में कहा कि जिंदल समूह को कोयला ब्लॉक आवंटन तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के कहने पर किया गया था। इस आधार पर उन्होंने सिंह को सम्मन भेजने की मांग की। राव ने यह बात झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा की याचिका के समर्थन में कही, जिसमें जिंदल स्टील से संबंधित कोयला ब्लॉक आवंटन मामले में पूर्व प्रधानमंत्री को सम्मन भेजने की मांग की गई थी।

राव ने विशेष न्यायाधीश भरत पाराशर से कहा कि वह इस आधार पर कोड़ा की याचिका का समर्थन कर रहे हैं कि प्रधानमंत्री कार्यालय ने कोयला ब्लॉक आवंटन मुद्दे की समीक्षा की थी और मनमोहन सिंह के इशारे पर जिंदल स्टील और गगन स्पांज को झारखंड का अमरकोंडा मुर्गादंगल ब्लॉक आवंटित करने का फैसला किया गया था।

कांग्रेस के नेता और उद्योगपति नवीन जिंदल के वकील ने हालांकि कहा कि वह कोड़ा की याचिका का न तो विरोध कर रहे हैं और न ही समर्थन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कोड़ा के आवेदन पर अदालत जो भी आदेश पारित करे, उससे मामले से बरी होने की मांग करने के आरोपी के अधिकार पर प्रतिकूल असर नहीं पड़ना चाहिए। अदालत इस पर केंद्रीय जांच ब्यूरो का पक्ष मंगलवार को सुनेगी।

कोड़ा ने गत महीने मनमोहन सिंह को सम्मन भेजने के लिए याचिका दाखिल की थी। याचिका में तत्कालीन ऊर्जा सचिव आनंद स्वरूप और तत्कालीन खनन सचिव जयशंकर तिवारी को भी सम्मन भेजने की मांग की गई है। इस मामले में कोड़ा, जिंदल, राव, पूर्व कोयला सचिव एच.सी. गुप्ता तथा अन्य को आरोपी बनाया गया है। उन पर भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत आपराधिक षंड़यंत्र और धोखाधड़ी का आरोप लगाया गया है।

Khabar IndiaTv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी रीड करते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें khabarindiaTv का भारत सेक्‍शन
Web Title: कोयला घोटाला : मनमोहन को सम्मन भेजने की मांग