Live TV
  1. Home
  2. FDI के लिहाज से चीन, अमेरिका...

FDI के लिहाज से चीन, अमेरिका को पछाडा भारत ने: रिपोर्ट

नई दिल्ली: एक रिपोर्ट के अनुसार भारत ने 2015 की पहली छमाही में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश FDI आकर्षित करने के लिहाज से चीन व अमेरिका को पछाड़ दिया। आलोच्य अवधि में भारत को 31 अरब

Agency
Agency 30 Sep 2015, 12:57:25 IST

नई दिल्ली: एक रिपोर्ट के अनुसार भारत ने 2015 की पहली छमाही में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश FDI आकर्षित करने के लिहाज से चीन व अमेरिका को पछाड़ दिया। आलोच्य अवधि में भारत को 31 अरब डॉलर का विदेशी निवेश मिला। वित्त मंत्रालय ने फिनांशल टाइम्स :लंदन: में प्रकाशित एक रिपोर्ट भेजी है जिसमें कहा गया है, निवेश में भारत ने बाजी मारी। इस रिपोर्ट के अनुसार 2015 की पहली छमाही में भारत को 31 अरब डॉलर FDI मिला। वहीं चीन को 28 अरब डॉलर और अमेरिका को 27 अरब डॉलर FDI मिला। रिपोर्ट के अनुसार 2014 में पूंजी निवेश के लिहाज से भारत को चीन, अमेरिका, ब्रिटेन व मैक्सिको के बाद पांचवें स्थान पर रखा गया था।

 

वैश्विक प्रतिस्पर्धी सूचकांक में भारत 55वें पायदान पर पहुंचा

 

विश्व की सबसे प्रतिस्पर्धी अर्थव्यवस्थाओं के एक वैश्विक सूचकांक में भारत एक लंबी छलांग लगाते हुए 55वें पायदान पर पहुंच गया है, जबकि स्विटजरलैंड शीर्ष पर है। विश्व आर्थिक मंच ने अपनी ताजा वैश्विक प्रतिस्पर्धी रिपोर्ट में कहा कि भारत की स्थिति में सुधार इस बात को रेखांकित करता है कि हाल ही में देश के आर्थिक सुधार में तेजी, संस्थानों की प्रतिस्पर्धी क्षमता में सुधार और ढांचागत क्षेत्र में मामूली सुधार का असर भारत की प्रतिस्पर्धी क्षमता पर दिख रहा है। सूची में स्विटजरलैंड शीर्ष पर है, जबकि दूसरे पायदान पर सिंगापुर, तीसरे पर अमेरिका, चौथे पर जर्मनी और पांचवे पर नीदरलैंड है। इनके बाद जापान, हांगकांग, फिनलैंड, स्वीडन और ब्रिटेन का स्थान आता है।

यह भी पढ़ें-

दक्षिणी चीन सागर विवाद पर ओबामा ने चीन को कड़ा संदेश दिया

चीन-अमेरिका के बीच सैन्य संबंध महत्वपूर्ण : शी

Khabar IndiaTv पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी रीड करते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें khabarindiaTv का सेक्‍शन
Web Title: FDI के लिहाज से चीन, अमेरिका को पछाडा भारत ने: रिपोर्ट