1. Home
  2. विदेश
  3. अमेरिका
  4. प्रचार अभियान पीछे छोड़कर देश के पुनर्निर्माण में जुटें: डोनाल्ड ट्रंप

प्रचार अभियान पीछे छोड़कर देश के पुनर्निर्माण में जुटें: डोनाल्ड ट्रंप

अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिकी जनता से कहा है कि वे राजनीतिक प्रचार अभियान को पीछे छोड़ दें और देश का पुनर्निर्माण करने का राष्ट्रीय अभियान शुरू करने के लिए एकजुट हो जाएं।

Bhasha [Published on:24 Nov 2016, 10:23 AM IST]
प्रचार अभियान पीछे छोड़कर देश के पुनर्निर्माण में जुटें: डोनाल्ड ट्रंप

वॉशिंगटन: अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिकी जनता से कहा है कि वे राजनीतिक प्रचार अभियान को पीछे छोड़ दें और देश का पुनर्निर्माण करने का राष्ट्रीय अभियान शुरू करने के लिए एकजुट हो जाएं। 

देश-दुनिया की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

ट्रंप ने बुधवार को थैंक्सगिविंग के मौके पर अपने वीडियो संदेश में कहा, ‘यह ऐतिहासिक राजनीतिक प्रचार अभियान अब खत्म हो चुका है। अब हमारे देश के पुनर्निर्माण के लिए और अमेरिका के पूर्ण वादे को बहाल करने के लिए हम सभी लोगों के लिए एक बड़े राष्ट्रीय स्तर के अभियान की शुरूआत होती है।’ अपने संदेश में ट्रंप ने सभी लोगों से आपसी मतभेदों को एक ओर रखने और अमेरिका को एकबार फिर महान बनाने के साझा संकल्प को पूरा करने के लिए एकसाथ मिल जाने के लिए कहा।

​इन्हें भी पढ़ें:
ट्रम्प बतौर वेतन सिर्फ 1 डॉलर लेंगे, छुट्टी नहीं लेंगे
फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम ने मेरी जीत में मदद की: डोनाल्ड ट्रंप

उन्होंने कहा कि हमने हाल ही में एक लंबा और थका देने वाला राजनीतिक अभियान पूरा किया है। भावनाएं अभी हावी हैं और तनाव रातों-रात खत्म नहीं होते। उन्होंने कहा, ‘दुर्भाग्यवश यह जल्दी नहीं जाते लेकिन हमारे सामने अब वॉशिंगटन में एक वास्तविक बदलाव लाने के लिए, हमारे शहरों में वास्तविक पैदा लाने के लिए और हमारे अंदरूनी शहरों समेत हमारे समुदायों के लिए वास्तविक समृद्धि लाने के लिए एकसाथ मिलकर इतिहास रच देने का अवसर है। यह मेरे लिए और देश के लिए बेहद अहम है लेकिन सफल होने के लिए हमें अपने पूरे देश के प्रयासों को एकजुट करना होगा।’

उन्होंने कहा, ‘मैं आपसे इस प्रयास में जुड़ने के लिए कह रहा हूं। यह समय नागरिकों के बीच विश्वास का संबंध विकसित करने का है क्योंकि जब अमेरिका एकजुट होता है तब कुछ भी हमारी पहुंच से बाहर नहीं होता। वास्तव में कुछ भी नहीं।’ उन्होंने कहा, ‘आइए हमारे पास जो कुछ भी है, उसके लिए हम शुक्रिया अदा करें और आइए आगे आने वाले रोमांचक नए अवसरों का सामना साहस के साथ करें।’

You May Like

Write a comment

Promoted Content