1. Home
  2. विदेश
  3. अमेरिका
  4. जूनियर ट्रंप और रूसी वकील की मुलाकात में नहीं था कुछ भी अवैध

जूनियर ट्रंप और रूसी वकील की मुलाकात में नहीं था कुछ भी अवैध

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के अटॉर्नी ने कहा है कि ट्रंप के सबसे बड़े बेटे और रूसी वकील के बीच पिछले साल चुनाव प्रचार के दौरान हुई मुलाकात में कुछ भी अवैध नहीं था।

Edited by: India TV News Desk [Published on:17 Jul 2017, 9:31 AM IST]
जूनियर ट्रंप और रूसी वकील की मुलाकात में नहीं था कुछ भी अवैध

वाशिंगटन: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के अटॉर्नी ने कहा है कि ट्रंप के सबसे बड़े बेटे और रूसी वकील के बीच पिछले साल चुनाव प्रचार के दौरान हुई मुलाकात में कुछ भी अवैध नहीं था। उल्लेखनीय है कि डेमोक्रेटिक उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन को फंसाने वाली जानकारी हासिल करने की उम्मीद में डोनाल्ड ट्रंप जूनियर की ओर से रूसी वकील से मिलने की इच्छा जताए जाने पर नए सवाल खड़े हो गए हैं। इससे ट्रंप के प्रचार अभियान और रूस के बीच संभावित सांठगांठ का संदेह पैदा हो गया है। (पनामा मामला: JIT ने शरीफ के खिलाफ 15 मामले फिर से खोलने की सिफारिश की)

ट्रंप और उनके बेटे का बचाव करते हुए राष्ट्रपति के अटॉर्नी जे सेकुलोव ने रविवार को पांच टीवी चैनलों पर कहा, यदि यह बैठक किसी रूसी वकील की ओर से एक विपक्षी शोध पत्र के मुद्दे पर भी हुई हो तो भी वह अवैध नहीं होती और न ही इसमें कानून का उल्लंघन हुआ है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति ने किसी बैठक में शिरकत नहीं की और न ही वह इससे अवगत थे।

हाल ही में डोनाल्ड ट्रंप के बेटे ने सफाई देते हुए कहा था कि  रूस की वकील के साथ बैठक की बात उन्होंने अपने पिता को नहीं बताई थी, जिसने कहा था कि वह चुनाव प्रचार में उनकी मदद कर सकती है। डोनाल्ड ट्रंप जूनियर ने फॉक्स न्यूज से कहा कि रूसी वकील नतालिया वेसेलनित्स्काया के साथ ट्रंप टावर में पिछले साल जून में उनकी मुलाकात में कुछ भी खास नहीं था, लेकिन आज उन्हें लगता है कि उन्हें चीजों को कुछ अलग ढंग से करना चाहिए था।

फॉक्स न्यूज द्वारा यह पूछे जाने पर कि क्या बैठक के बारे में उन्होंने अपने पिता को बताया था, ट्रंप जूनियर ने कहा, "नहीं। ऐसा कुछ भी नहीं था। बताने लायक कुछ था ही नहीं।" रूसी वकील के साथ बैठक तथा डेमोक्रेटिक पार्टी की तरफ से राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन के चुनाव प्रचार अभियान को नुकसान पहुंचाने के लिए रूस के प्रयास के आरोपों का बचाव करते हुए राष्ट्रपति के बेटे ने कहा कि उन्हें इस बारे में कोई जानकारी नहीं थी। रूस ने भी आठ नवंबर को हुए अमेरिकी राष्ट्रपति के चुनाव में दखलंदाजी से बार-बार इनकार किया है।

Related Tags: