ford
  1. You Are At:
  2. होम
  3. विदेश
  4. अमेरिका
  5. उत्तर कोरिया के बाद डोनाल्ड ट्रंप ने अब इस देश को दी युद्ध की चेतावनी

उत्तर कोरिया के बाद डोनाल्ड ट्रंप ने अब इस देश को दी युद्ध की चेतावनी

उत्तर कोरिया के किम जोंग-उन को युद्ध की चेतावनी देने के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक और देश को अपने निशाने पर ले लिया है।

Edited by: Khabarindiatv.com [Updated:12 Aug 2017, 4:31 PM IST]
Donald Trump | AP Photo- Khabar IndiaTV
Donald Trump | AP Photo

वॉशिंगटन: उत्तर कोरिया के किम जोंग-उन को युद्ध की चेतावनी देने के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक और देश को अपने निशाने पर ले लिया है। वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो द्वारा सत्ता का नियंत्रण अपने हाथ में लेने के जवाब में शनिवार को डोनाल्ड ट्रम्प ने इस देश के खिलाफ सैन्य कार्रवाई की चेतावनी दी। डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि वेनेजुएला में स्थिति बेहद खतरनाक अव्यवस्था में है। 

वेनेजुएला में 30 जुलाई के मतदान के बाद प्रदर्शनकारियों ने कराकस की सड़कों और वेनेजुएला के अन्य शहरों में प्रदर्शन किया। इस मतदान से मादुरो को विपक्षी-प्रभुत्व वाले नेशनल असेंबली के स्थान पर अपने समर्थकों से भरे 545 सदस्यीय संविधान सभा के गठन की अनुमति मिली। ट्रम्प प्रशासन ने मादुरो को तानाशाह बताते हुए उनके एवं अन्य पूर्व तथा मौजूदा कई अधिकारियों के खिलाफ प्रतिबंध लगाया है। उन्होंने मादुरो की सरकार पर मानवाधिकार उल्लंघन एवं देश के लोकतंत्र को कमजोर करने का आरोप भी लगाया है। ट्रम्प ने अपने विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन, संयुक्त राष्ट्र में राजदूत निक्की हेली तथा राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार एच. आर. मैकमास्टर के साथ बैठक के बाद कहा, ‘वेनेजुएला के लिये हमारे पास कई विकल्प हैं। वैसे मैं सैन्य विकल्प से इनकार नहीं करने जा रहा हूं। हमारे पास कई विकल्प हैं।’

ट्रम्प ने कहा, ‘वेनेजुएला हमारा पड़ोसी है। आप जानते हैं कि हम पूरी दुनिया में फैले हैं और हमारी सेना पूरी दुनिया में बेहद दूर-दूर स्थानों तक फैली है। वेनेजुएला बहुत दूर नहीं है और वहां के लोग मुश्किल झेल रहे हैं, वे मर रहे हैं। वेनेजुएला के लिए हमारे पास कई विकल्प हैं और अगर जरूरत पड़ी तो संभावित सैन्य विकल्प का रास्ता भी खुला है।’ वेनेजुएला के रक्षा मंत्री व्लादिमीर पादरिनो ने ट्रम्प की टिप्पणी को बेवकूफी भरा कृत्य और बेहद अतिवादी बताया है। इससे पहले व्हाइट हाउस ने एक बयान में कहा था कि ट्रम्प ने मादुरो के फोन कॉल रिसीव करने से इनकार कर दिया था।

You May Like