1. Home
  2. विदेश
  3. यूरोप
  4. 'दुनिया दक्षिण एशिया को भारत के चश्मे से देखना बंद करे'

'दुनिया दक्षिण एशिया को भारत के चश्मे से देखना बंद करे'

लंदन: पाकिस्तान के गृहमंत्री चौधरी निसार खान का कहना है कि भारत का प्रभुत्ववादी रूख और आक्रामक मुद्रा क्षेत्र की शांति और स्थिरता के लिए खतरा है और विश्व समुदाय से कहा कि वह दक्षिण

India TV News Desk [Published on:16 Nov 2016, 4:03 PM IST]
'दुनिया दक्षिण एशिया को भारत के चश्मे से देखना बंद करे'

लंदन: पाकिस्तान के गृहमंत्री चौधरी निसार खान का कहना है कि भारत का प्रभुत्ववादी रूख और आक्रामक मुद्रा क्षेत्र की शांति और स्थिरता के लिए खतरा है और विश्व समुदाय से कहा कि वह दक्षिण एशिया को भारत के चश्मे से देखना बंद करे। ब्रिटिश राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार सर मार्क लयाल ग्रांट के साथ बैठक में ब्रिटिश प्रधानमंत्री थेरेजा मे से मुलाकात करने वाले निसार ने कहा कि पाकिस्तान अपने सैनिकों की निर्मम और बिना उकसावे की हत्या का बदला लेने का अपना अधिकार सुरक्षित रखे हुए है।

एआरवाई न्यूज ने निसार के हवाले से बताया, भारत का प्रभुत्ववादी रूख और आक्रामक मुद्रा क्षेत्र की शांति और स्थिरता के लिए खतरा है। उन्होंने कहा कि इस तरह के दांवपेच से पाकिस्तान को दबाया नहीं जा सकता और उनका देश अपने सैनिकों की बिना उकसावे की हत्या का बदला लेने का अपना अधिकार सुरक्षित रखता है। निसार ने कहा कि विश्व समुदाय, खास कर पाकिस्तान के दोस्तों को क्षेत्र में भारतीय दुराग्रह पर ध्यान केन्दि्रत करना और उसपर प्रतिक्रिया करनी चाहिए।

पाकिस्तानी गृहमंत्री ने कहा, दुनिया और हमारे दोस्तों को पाकिस्तान के खिलाफ भारतीय मंसूबों का काट करने के लिए ज्यादा प्रयास करने की जरूरत है और उन्हें दक्षिण एशिया को भारत के चश्मे से देखना बंद करना चाहिए। निसार ने आतंकवाद के खिलाफ जारी जंग की चर्चा करते हुए कहा कि आतंकवाद क्षेत्र और अंतरराष्ट्रीय शांति एवं अमन के लिए खतरा है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के अवाम और उसके सुरक्षा संस्थान अपनी सरजमीन से आतंकवाद का पूरी तरह से सफाया करने के लिए कृतसंकल्प हैं। मे ने पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और पाकिस्तानी अवाम को अपनी शुभकामनाएं दीं और कहा कि वह 2017 के पूर्वार्ध में पाकिस्तान की यात्रा की बाट जोह रही हैं।

Related Tags: