1. Home
  2. विदेश
  3. एशिया
  4. पाकिस्तान सेना ने दी सर्जिकल स्ट्राइक का ‘माकूल जवाब’ देने की धमकी

Best Hindi News Channel

पाकिस्तान सेना ने दी सर्जिकल स्ट्राइक का ‘माकूल जवाब’ देने की धमकी

India TV News Desk [ Updated 15 Oct 2016, 13:40:05 ]
पाकिस्तान सेना ने दी सर्जिकल स्ट्राइक का ‘माकूल जवाब’ देने की धमकी - India TV

पाकिस्तानी सेना ने भारत को उसके किसी भी ‘दुस्साहस’ का ‘माकूल जवाब’ देने की धमकी दी है और उसने PoK में सर्जिकल हमले के भारत के दावे को ‘अफवाह’ करार दिया। 

सेना प्रमुख राहील शरीफ की अध्यक्षता में शुक्रवार को हुई कोर कमांडर बैठक में पाकिस्तानी सेना ने भारत के रूख को कश्मीर से ‘ध्यान भटकाने की कोशिश’ बताया। सेना ने एक बयान में कहा, ‘‘भारत कश्मीर से दुनिया का ध्यान भटकाने के लिए सर्जिकल हमले का दावा कर रहा। बैठक में इस दावे को ख़ारिज रते हुए संकल्प लिया गया कि दुस्साहस और गैर जिम्मेदाराना कार्रवाई की किसी भी कोशिश का माकूल जवाब दिया जाएगा।’’

ग़ौरतलब है कि उड़ी सैन्. शिविर पर हमले के बाद भारतीय सेना ने 28-29 सितंबर की रात पाक अधिकृत कश्मीर में घुसकर कई आतंकी ठिकाने नष्ट किए थे। उड़ी हमले में 19 जवान शहीद हुए थे। 

इससे पहले पाकिस्तान ने दावा किया था कि कश्मीर में ‘मानवाधिकारों के उल्लंघन’ को उजागर करते हुए उसने जो कूटनीति आक्रामकता दिखाई है उसकी वजह से भारत ‘परेशान’ हो गया है। पाकिस्तानी विदेश विभाग के प्रवक्ता नफीस ज़कारिया ने यह भी आरोप लगाया था कि भारत कश्मीर से ‘ध्यान भटकाने’ के लिए नियंत्रण रेखा पर संघर्ष विराम का उल्लंघन कर रहा है। उन्होंने कहा कि भारत ‘परेशान’ है क्योंकि पाकिस्तान ने कश्मीर में हालात को लेकर नयी दिल्ली का ‘पर्दाफाश करने’ के लिए कूटनीतिक अभियान की शुरूआत की है।

रेडियो पाकिस्तान के अनुसार ज़कारिया ने साप्ताहिक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘पड़ोसी देशों के मामलों में दख़ल और नियंत्रण रेखा पर संघर्ष विराम के उल्लंघन भारत की परेशानी का सूचक है।’ उन्होंने कहा कि पाकिस्तान कश्मीर में हालात का मुद्दा सभी स्तरों पर प्रभावी ढंग से उठाया है। जकारिया ने कहा कि पाकिस्तान कश्मीर में ‘मानवाधिकारों के उल्लंघन और भारतीय अत्याचारों’ को दुनिया भर में उजागर करना जारी रखेगा।

पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने आरोप लगाया कि भारत संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद के दल को सच्चाई पता करने के लिए कश्मीर जाने से रोक रहा है।  उन्होंने कहा कि भारत की ओर से लक्षित हमले को लेकर किया गया दावा उन कई ‘झूठ’ में से एक है जो नयी दिल्ली विश्व समुदाय को बताता आ रहा है।

Read Complete Article
loading...