1. Home
  2. विदेश
  3. एशिया
  4. प्रदूषण रोकने के लिए चीन को चुकानी पड़ रही है ये बड़ी कीमत

प्रदूषण रोकने के लिए चीन को चुकानी पड़ रही है ये बड़ी कीमत

भारी उद्योगों द्वारा फैलाए जा रहे प्रदूषण को रोकना चीन के लिए काफी मुश्किल हो गया है। प्रदूषण पर शिकंजा कसने से अक्टूबर महीने में चीन का औद्योगिक उत्पादन धीमा रहा। सरकारी आंकड़ों से यह जानकारी मिली है।

Edited by: India TV News Desk [Published on:14 Nov 2017, 2:33 PM IST]
प्रदूषण रोकने के लिए चीन को चुकानी पड़ रही है ये बड़ी कीमत

बीजिंग: भारी उद्योगों द्वारा फैलाए जा रहे प्रदूषण को रोकना चीन के लिए काफी मुश्किल हो गया है। प्रदूषण पर शिकंजा कसने से अक्टूबर महीने में चीन का औद्योगिक उत्पादन धीमा रहा। सरकारी आंकड़ों से यह जानकारी मिली है। राष्ट्रीय सांख्यिकी ब्यूरो (एनबीसी) ने कहा है कि कल- कारखानों में उत्पादन सितंबर माह के 6.6 प्रतिशत से कम होकर अक्तूबर में 6.2 प्रतिशत रह गया। यह ब्लूमबर्ग न्यूज सर्वेक्षण के पूर्वानुमान 6.3 प्रतिशत से भी कम है। (सीरिया में शांति वार्ता शुरू होने तक युद्ध से पीछे नहीं हटेगा अमेरिका)

देश में धुंध से प्रभावित शहरों को साफ करने के अभियान के तहत सरकार ने कुछ इस्पात कारखानों के उत्पादन को कम किया गया था। इसके साथ ही, पिछले महीने कम्युनिस्ट पार्टी की नेशनल कांग्रेस के दौरान भी कारखानों को बंद कर दिया गया था। इसमें चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने पर्यावरण की रक्षा के लिए और कदम उठाने के लिए कहा था।

एनबीएस की प्रवक्ता लियू एहुआ ने संवाददाताओं से कहा कि चीन की अर्थव्यवस्था ने गुणवत्ता में सुधार के साथ स्थिर प्रदर्शन को बरकरार रखा है। एनबीएस के आंकड़ों के मुताबिक, अक्तूबर में खुदरा बिक्री की वृद्धि दर गिरकर 10 प्रतिशत रही, जो सितंबर महीने के मुकाबले 0.3 प्रतिशत कम है और 10.5 प्रतिशत के पूर्वानुमान से भी कम है।

Related Tags:

You May Like