1. Home
  2. विदेश
  3. अन्य देश
  4. क्यूबा: फिदेल कास्त्रो को श्रद्धांजलि देने पहुंचे लाखों लोग

Best Hindi News Channel

क्यूबा: फिदेल कास्त्रो को श्रद्धांजलि देने पहुंचे लाखों लोग

India TV News Desk [ Updated 28 Nov 2016, 13:37:00 ]
क्यूबा: फिदेल कास्त्रो को श्रद्धांजलि देने पहुंचे लाखों लोग - India TV

हवाना: फिदेल कास्त्रो को श्रद्धांजलि देने के लिए आज लोगों की भीड़ हवाना के प्रसिद्ध रेवोल्यूशन स्क्वैयर में उमडे़गी और इसके साथ ही इस क्रांतिकारी नेता की याद में सप्ताह भर आयोजित होने वाले विदाई कार्यक्रमों की शुरूआत होगी। कास्त्रो ने शुक्रवार को अंतिम सांस ली थी। उनके निधन के बाद लाखों लोग प्लाजा में एकत्र होंगे जहां कास्त्रो अमेरिका के खिलाफ अक्सर प्रदर्शन किया करते थे। 50 वर्षीय बाइक-टैक्सी चालक जॉर्ज गुइलार्ते ने कहा, आप देखेंगे कि क्यूबाई लोग वास्तव में कैसे है। आप देखेंगे कि वह कितने दुखी हैं, वे उस व्यक्ति के जाने के बाद कैसा महसूस करते हैं, जिनसे वे प्यार करते हैं।

कैरेबियाई द्वीप में न्याय एवं समानता लाने के वादे के साथ कास्त्रो ने 1959 की क्रांति में तानाशाह को अपदस्थ किया था। वह 20वीं सदी की एक बड़ी हस्ती थे। कुछ लोग कास्त्रो को देश में शिक्षा एवं नि:शुल्क स्वास्थ्य सेवा की सुविधा लाने वाले समाजवादी नायक के रूप में देखते हैं जबकि कुछ उन्हें एक ऐसा तानाशाह मानते हैं जिसके कारण आर्थिक समस्याएं पैदा हुईं और परिणामस्वरूप बड़ी संख्या में क्यूबावासियों को बेहतर जीवन के लिए फ्लोरिडा जाना पड़ा।

बदलते समय का संकेत देते हुए अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा मार्च में हवाना की अपनी ऐतिहासिक यात्रा के दौरान प्लाजा गए थे। वह 1928 के बाद क्यूबा जाने वाले पहले अमेरिकी नेता हैं। फिदेल के भाई राउल कास्त्रो ने 2014 में राजनयिक संबंध में सुधार के लिए ओबामा के साथ हाथ मिलाया था। फिदेल ने स्वास्थ्य बिगड़ने के कारण राउल को वर्ष 2006 में शासन सौंप दिया था। शोक कार्यक्रम के आयोजकों ने रेवोल्यूशन स्क्वैयर में नेशनल लाइब्रेरी पर फिदेल कास्त्रो की एक बड़ी तस्वीर लगाई है जिसमें वह हाथ में राइफल थामे हुए हैं। इस बीच शासन से असंतुष्ट लोगों ने शोक कार्यक्रम के मद्देनजर अपने नियमित प्रदर्शन रद्द कर दिए हैं।

Read Complete Article
Related Tags:
loading...