1. Home
  2. विदेश
  3. अन्य देश
  4. आखिर क्यों अपने भाई फिदेल कास्त्रो के अंतिम संस्कार में नहीं जाएंगी जौनिता कास्त्रो

आखिर क्यों अपने भाई फिदेल कास्त्रो के अंतिम संस्कार में नहीं जाएंगी जौनिता कास्त्रो

मियामी: क्यूबा के दिवंगत नेता फिदेल कास्त्रो की बहन जौनिता कास्त्रो उनके अंतिम संस्कार में शामिल नहीं होंगी। स्थानीय मीडिया ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि जौनिता दशकों से मियामी में रह रही हैं।

India TV News Desk [Published on:27 Nov 2016, 9:15 AM IST]
आखिर क्यों अपने भाई फिदेल कास्त्रो के अंतिम संस्कार में नहीं जाएंगी जौनिता कास्त्रो

मियामी: क्यूबा के दिवंगत नेता फिदेल कास्त्रो की बहन जौनिता कास्त्रो उनके अंतिम संस्कार में शामिल नहीं होंगी। स्थानीय मीडिया ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि जौनिता दशकों से मियामी में रह रही हैं। जौनिता ने कल एल नुएवो हेराल्ड को बताया, इस तरह की बेकार खबरें हैं कि मैं अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए क्यूबा जा रही हूं, लेकिन मैं यह स्पष्ट कर देना चाहती हूं कि मैं कभी उस द्वीप पर वापस नहीं जाउंगी और न ही मेरी ऐसी कोई योजना है।

 

उन्होंने कहा, मैं किसी शख्स की मौत का जश्न नहीं मना रही हूं और न ही मैं उस शख्स के लिए ऐसा करूंगी जो मेरे परिवार नाम से ताल्लुक रखता है। जौनिता ने कहा, फिदेल कास्त्रो की बहन होने के नाते मैं उस इंसान को खोने के दर्द से गुजर रही हूं जो मेरे ही खून से जुड़ा है। फिदेल के छोटे भाई और क्यूबा के राष्ट्रपति राउल कास्त्रो (85) ने शुक्रवार करीब आधी रात को सरकारी टेलीविजन पर फिदेल के निधन की घोषणा की थी।

फिदेल और क्यूबा के राष्ट्रपति राउल कास्त्रो अपने माता पिता की सात संतानों में से थे। 1933 में जन्मीं जौनिता ने ही सिर्फ सार्वजनिक तौर पर साम्यवादी शासन का विरोध किया था, जिसका नेतृत्व उनके भाई ने पांच दशक से भी अधिक समय तक किया। वर्ष 1964 से जौनिता मियामी में रह रही हैं और फिदेल को सत्ता से हटाने के लिए उन्होंने सीआईए की एक योजना में भी सहयोग दिया था।

Related Tags:

You May Like

Write a comment

Promoted Content