1. Home
  2. टेक
  3. न्यूज़
  4. …तो क्‍या जियो के आगे सब हो जाएंगे फेल? बड़ा सवाल 1 अप्रैल के बाद क्‍या करेंगे जियो यूजर?

…तो क्‍या जियो के आगे सब हो जाएंगे फेल? बड़ा सवाल 1 अप्रैल के बाद क्‍या करेंगे जियो यूजर?

नई दिल्‍ली: मुकेश अंबानी ने जियो के फ्री ऑफर के साथ भारत में मोबाइल की दुनिया में जो दावं चला था क्‍या वह फ्री ऑफर खत्‍म हो जाने के बाद भी उतना ही सफल रहेगा?

India TV News Desk [Published on:20 Mar 2017, 1:15 PM IST]
 …तो क्‍या जियो के आगे सब हो जाएंगे फेल? बड़ा सवाल 1 अप्रैल के बाद क्‍या करेंगे जियो यूजर?

नई दिल्‍ली: मुकेश अंबानी ने जियो के फ्री ऑफर के साथ भारत में मोबाइल की दुनिया में जो दावं चला था क्‍या वह फ्री ऑफर खत्‍म हो जाने के बाद भी उतना ही सफल रहेगा? 1 अप्रैल के बाद जब जियो की फ्री सर्विस खत्‍म हो जाएगी तो ऐसे कितने प्रतिशत यूजर होंगे जो जियो का साथ छोड़ सकते हैं?  क्‍या जियो यूजर्स कंपनी का साथ छोड़कर दूसरे ऑपरेटर्स के साथ जा सकते हैं ? ऐसे ही कुछ सवालों का जवाब खोजते हुए वॉल स्‍ट्रीट रिसर्च एंड ब्रोकरेज फर्म की रिपोर्ट आ गई है जो इन बातों का जवाब खोजते हुए बताती है कि मुकेश अंबानी ने जिस विजन के साथ जियो का फ्री ऑफर शुरु किया था वह सफल रहा है, और 1 अप्रैल के बाद भी यूजर का साथ व्‍यापक स्‍तर पर बना रहेगा।

रिपोर्ट की खास बातें:
1. वॉल स्‍ट्रीट रिसर्च एंड ब्रोकरेज फर्म की रिपोर्ट बताती है कि जियो के कस्‍टमर लॉयल कस्‍टमर है और फ्री सर्विस खत्‍म हो जाने के बाद भी बड़ी संख्‍या में वे जियो के साथ बनें रहेंगे।

2. बहुत जल्‍द जियो ग्राहकों के मामलें में आइडिया और वोडाफोन को भी पीछे छोड़ देगी।

3. केवल 2 फीसदी ग्राहकों की 1 अप्रैल के बाद जियो का साथ छोड़ने की संभावना है। 63 फीसदी उपभोक्‍ताओं ने कहा है कि वे जियो को अपना प्रायमरी नंबर बनाने जा रहे हैं।

4. इसका मतलब यह हुआ की जियो ने जो 303 मंथ का प्‍लान यूजर को दिया है उसे बेहतर समर्थन मिलेगा।

5. रिपोर्ट के अनुसार 67 फीसदी ग्राहकों का कहना है कि जियो उनका सेकेंडरी नंबर है।

6. रिपोर्ट के अनुसार ऐसे उपभोक्‍ता जो अभी 2 G और 3 G सुविधा का उपयोग कर रहे हैं अगले साल तक 4 जी सेवा में अपग्रेड होते समय जियो के साथ ही जाना पसंद करेंगे।

इस सर्वे रिपोर्ट के लिए जिन उपभोक्‍ताओं से सवाल पूछे गए उसमें से 40 फीसदी मेट्रो सर्किल से, 30 फीसदी ए सर्किल, 20 फीसदी बी सर्किल और 10 फीसदी सी सर्किल से आते हैं। रिपोर्ट के अनुसार 95 फीसदी शहरी क्षेत्र और 5 फीसदी उपभोक्‍ताओं ने कहा कि वे गांव में रहते हैं।