1. Home
  2. टेक
  3. न्यूज़
  4. स्नैपचैट के CEO ने भारत को गरीब देश कहा, भड़क गए भारतीय यूजर्स

स्नैपचैट के CEO ने भारत को गरीब देश कहा, भड़क गए भारतीय यूजर्स

फोटो शेयरिंग मोबाइल ऐप स्नैपचैट के CEO इवान स्पीगल द्वारा भारत को एक गरीब देश बताने पर विवाद छिड़ गया है। भारत में स्नैपचैट की दीवानगी लगातार बढ़ती जा रही थी, लेकिन...

Khabarindiatv.com [Published on:16 Apr 2017, 3:29 PM IST]
स्नैपचैट के CEO ने भारत को गरीब देश कहा, भड़क गए भारतीय यूजर्स - India TV

नई दिल्ली: फोटो शेयरिंग मोबाइल ऐप स्नैपचैट के CEO इवान स्पीगल द्वारा भारत को एक गरीब देश बताने पर विवाद छिड़ गया है। भारत में स्नैपचैट की दीवानगी लगातार बढ़ती जा रही थी, लेकिन सीईओ के इस बयान के सामने आने के बाद कई भारतीय यूजर्स ने स्पीगल को आड़े हाथों लिया। 

टेक से जुड़ी ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

यही नहीं, गूगल प्लेस्टोर पर जाकर कई भारतीय यूजर्स ने स्नैपचैट को वन स्टार रेटिंग दी और सीईओ को बुरा-भला कहा। स्नैपचैट के सीईओ ने अपने एक बयान में कहा था कि भारत बिजनस बढ़ाने के नजरिए से 'बहुत गरीब' देश है। वैराइटी में प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक इवान ने स्नैपचैट ऐप के यूजर्स बेस के ग्रोथ को लेकर 2015 में बैठक के दौरान भारत को एक गरीब देश बताया था। 

Snapchat reviews - India TV

भारतीयों ने गूगल के प्ले स्टोर पर CEO को खूब खरी-खोटी सुनाई।

खबरों के मुताबिक, बैठक में जब स्पीगल से एक एंप्लॉयी ने भारत में इंटरनेट की पहुंच बढ़ने पर भी स्नैपचैट की धीमी ग्रोथ पर सवाल किया तो इवान ने उनकी बात काटते हुए कहा था, 'यह ऐप केवल अमीर लोगों के लिए है।' स्पीगल ने कहा था कि वह भारत और स्पेन जैसे गरीब देशों में अपने ऐप का विस्तार नहीं करना चाहते।

इन्हें भी पढ़ें:

स्नैपचैट के सीईओ के इस बयान की ट्विटर पर भी काफी आलोचना हुई। एक रिपोर्ट के मुताबिक भारत में स्नैपचैट के लगभग 40 लाख यूजर्स हैं और इसका यूजरबेस दिन-प्रतिदिन बढ़ रहा था। हालांकि स्नैपचैट के सीईओ के इस बयान के बाद कई भारतीयों ने कथित तौर पर इसके ऐप को अनइंस्टॉल करने की भी धमकी दी। 

इन्हें भी पढ़ें:

वॉट्सऐप से तुलना करें तो जहां भारत में स्नैपचैट के लगभग 40 लाख यूजर्स होने की बात की जा रही है, वहीं वॉट्सऐप के यहां लगभग 20 करोड़ यूजर्स हैं।

You May Like

Write a comment

Promoted Content